परसा कोल ब्लॉक एक्सटेंशन: जंगल बचाने की टूटने लगी उम्मीदें तो प्रिय पेड़ों से लिपटकर दी विदाई, आंखों से छलके आंसू



अर्थ-डे पर दिल को छू लेने वाली यह तस्वीर सरगुजा के हसदेव अरण्य के जंगलों की है, जहां पेड़ों के साथ पली-बढ़ी महिलाओं व ग्रामीणों ने उन पेड़ों को अंतिम विदाई दी, जिन्हें बचा पाने की उम्मीदें टूट रही है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here