Aadhaar Update UIDAI Cancels 6 Lakh Fake Numbers Check if Aadhaar Card is Real – Tech news hindi


सरकार ने हाल ही में एक डेटा जारी किया है जिसके मुताबिक UIDAI ने करीब 6 लाख आधार कार्ड रद्द कर दिए हैं। ये सभी आधार नंबर नकली हैं। नकली आधार कार्ड (Aadhaar Card) और आधार नंबर अक्सर गंभीर अपराध करने के लिए उपयोग किए जाते हैं, और यूआईडीएआई उन पर प्रतिबंध लगाने के लिए कई कदम उठा रहा है। लेकिन अब समस्य यह आती है की आप कैसे पहचाने की आपका आधार नकली है या असली। आपकी इसी परेशानी को खत्म करने के लिए हम आपके लिए ये खबर लाएं हैं, जहां हम आपको बतायेंगे की कैसे आप असली और नकली Aadhaar Card की पहचान कर सकते हैं:

 

ये भी पढ़ें:- Jio के इस प्लान ने छूटाए Airtel के पसीने! देता है एयरटेल से ज्यादा वैलिडिटी, एक्स्ट्रा डेटा जैसे कई बेनिफिट्स

 

ऐसे करें नकली और असली Aadhaar Card की पहचान
Step 1: यदि आप यह चेक चाहते हैं कि आपके पास जो आधार नंबर है वह असली है या नकली, तो यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। https://resident.uidai.gov.in/offlineaadhaar।

Step 2: इसके बाद, ‘आधार वेरिफिकेशन’ के ऑप्शन का चुने। नकली और असली Aadhaar Card की जांचने के लिए आप सीधे https://myaadhaar.uidai.gov.in/verifyAadhaar लिंक पर भी जा सकते हैं।

Step 3: इसके बाद आगे बढ़ने के लिए 12 अंकों का आधार नंबर या 16 अंकों की वर्चुअल आईडी दर्ज करें।

Step 4: जब आप नंबर दर्ज कर रहे हों, तो स्क्रीन पर दिए सुरक्षा कोड दर्ज करें और वन टाइम पासवर्ड या ओटीपी के लिए अनुरोध करें। 

 

ये भी पढ़ें:- SIM चालू रखने के लिए बेस्ट प्लान: 112 रुपए से कम में मिलेगा 99 रुपए का टॉकटाइम, डेटा और SMS

 

Step 5: अब आप आमतौर पर दिए गए आधार नंबर या वर्चुअल आईडी के लिए अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त करेंगे। वेबसाइट पर ओटीपी दर्ज करें।

Step 6: यह आपको एक नए पेज पर ले जाएगा जहां आपको एक मेसेज मिल सकता है जो बताता है कि आपका आधार नंबर मान्य है या नहीं।

Step 7: मेसेज के साथ, आधार कार्ड में लिखा नाम, राज्य, आयु, लिंग और अन्य डिटेल्स भी स्क्रीन पर दिखाई देंगे। यदि ये सभी डिटेल्स आपको दिखाई देती हैं तो आपके पास जो आधार नंबर है, वह असली है।

इसके अलावा, आधार को ऑफलाइन वेरीफाई करने के लिए आधार पत्र/ईआधार/आधार पीवीसी कार्ड पर छपे क्यूआर कोड को एक स्कैन करता है। ये 12 अंकों की संख्या प्रत्येक भारतीय नागरिक के लिए पहचान का एक अनिवार्य हिस्सा बन गई है। आधार, अपने बढ़ते महत्व के साथ, पहचान के सबसे अधिक मांग वाले दस्तावेजों में से एक बन गया है।

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here