BJP strong attack on dynasty politics Rafale and surgical strike were also mentioned in national executive – India Hindi News


कोरोना के बुरे समय से पार पाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की तमाम उपलब्धियों और विभिन्न चुनावों में मिली सफलताओं के भारी-भरकम एजेंडे के साथ भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पहले दिन वंशवाद की राजनीति निशाने पर रही। पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बैठक की उद्घाटन भाषण में दो टूक कहा कि एक तरफ भाजपा ने रचनात्मक राजनीति और राष्ट्र नीति पर चलकर देश को नई दिशा दी है, वहीं विपक्ष ने लगातार देश को गुमराह करने की कोशिश की। नड्डा ने कहा कि वंशवाद और भ्रष्टाचार से पनपी राजनीतिक पार्टियां समाज कल्याण की योजनाओं में सबसे बड़ी बाधा है।

मिशन दक्षिण भारत के नए लक्ष्य तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में शनिवार को शुरु हुई भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के पहले राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में उद्घाटन भाषण करते हुए जेपी नड्डा ने विपक्ष पर करारा निशाना साधा और कहा कि वंशवाद और भ्रष्टाचार से पनपे दल समाज कल्याण की योजनाओं में बाधा है।

सर्जिकल स्ट्राइक और राफेक भी जिक्र

उन्होंने कहा कि एक तरफ भाजपा रचनात्मक राजनीति और राष्ट्र निर्माण की दिशा में आगे बढ़ी है, वहीं दूसरी तरफ विपक्ष लगातार देश को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। सर्जिकल स्ट्राइक, राफेल सौदा, कोरोना टीकाकरण तमाम मुद्दे हैं जिन पर विपक्ष ने अपनी नकारात्मक भूमिका निभाई है।

मोदी सरकार ने बदली तस्वीर : नड्डा

नड्डा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आठ साल के कार्यकाल में गरीब कल्याण योजना, सामाजिक उत्थान की राष्ट्रवादी सोच का, नए भारत के निर्माण के उनके संकल्प का जिक्र किया। श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान का जिक्र करते हुए नड्डा ने कहा कि उनका मंत्र था कि भारत में दो विधान दो निशान नहीं चलेंगे। उनके संकल्प को प्रधानमंत्री ने आर्टिकल 370 हटाकर पूरा किया।

नड्डा ने कहा कि मोदी ने 20 सालों तक लगातार संवैधानिक पदों पर रखकर समाज कल्याण और गरीबों के उत्थान के लिए जो काम किए हैं वह हम सबके लिए प्रेरणा है। उन्होंने कोरोना काल में 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन देने और जन धन योजना के जरिए 45 करोड़ लोगों को सशक्त बनाने का विशेष उल्लेख किया। राष्ट्रपति पद के लिए आदिवासी महिला को उम्मीदवार बनाने को लेकर आदिवासियों समाज व वंचित वर्ग के प्रति भाजपा सरकार की प्रतिबद्धता को भी स्पष्ट किया।

गरीब की चिंता प्राथमिकता रही : प्रधान

बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आर्थिक व गरीब कल्याण संकल्प प्रस्ताव रखा, जिसका समर्थन केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा में नेता सदन पियूष गोयल एवं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने किया। इस प्रस्ताव की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि बैठक में आर्थिक और गरीब कल्याण संकल्प प्रस्ताव पारित हुआ है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की सरकार को 8 साल पूरे हुए हैं। भारत में गरीबों की चिंता हमारी प्राथमिकता रही है। कोरोना के उपरान्त देश की वित्तीय आंकड़े बहुत ही उत्साहजनक है। 2021-22 में 8.7% की विकास दर आप सभी के सामने है। इसी बीच में देश का एक्सपोर्ट बढ़ा है, देश में एफडीआई ज्यादा आई है। पिछले 8 वर्षों में देश में जीएसटी से लेकर पीएलआई तक अनेक निर्णय लिए गए हैं।

रोजगार पर आगे बढ़े

प्रधान ने कहां की कोरोना के समय में प्रधानमंत्री मोदी ने आत्मनिर्भर भारत की कल्पना की और दो साल में उस पर काम करते हुए मजबूती से उभरे। 2014 में जो निराशा की विरासत मिली थी और जो नीति पंगुता की हालत थी, उसे इस सरकार की पूरी यात्रा में विश्वास और दृड़ता के रूप में सामने लाया गया। कोरोना प्रबंधन और टीकाकरण को लेकर सारे विश्व में भारत की सराहना की गई। उन्होंने रोजगार, हाल में सेना में भर्ती को लेकर लाई गई योजना का भी समर्थन किया और कहा कि रोजगार के मोर्चे पर नौकरियां बढ़ाने के साथ स्टार्टअप व यूनिकॉर्न की सफलता भी सामने आई है।

मोदी का जोरदार स्वागत

इसके पहले बैठक में पहुंचने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जोरदार स्वागत किया गया। तेलंगाना की सांस्कृतिक और परंपरागत संस्कृति की झलक इस दौरान दिखाई दी। देर रात तक चली बैठक में पार्टी ने आने वाले गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव को लेकर वहां के प्रदेश अध्यक्षों से जानकारी ली। इसके अलावा हाल में हुए विभिन्न राज्यों के उपचुनाव और चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में मिली सफलता पर भी चर्चा की गई।

शाह रखेंगे राजनीतिक प्रस्ताव

रविवार को कार्यकारिणी के दूसरे दिन के एजेंडे में पार्टी अपना सबसे हम राजनीतिक प्रस्ताव पारित करेगी। इसे गृहमंत्री अमित शाह पेश करेंगे। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समापन भाषण सबसे अहम होगा। बाद में हैदराबाद के परेड ग्राउंड में मोदी एक बड़ी रैली को भी संबोधित करेंगे।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here