Bulli bai app Accused Bishnoi emotionless hard to break threaten to commit suicide say police – India Hindi News


बुली बाई ऐप मामले में मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड नीरज बिश्नोई को पुलिस ने एक चालाक, संवेदनहीन और ऐसा युवक बताया है जिससे कुछ भी कहलवाना काफी मुश्किल है। इतना ही नहीं, नीरज ने पुलिस हिरासत में आत्महत्या करने की भी धमकी दी है और इस दौरान दो बार वह खुद को नुकसान पहुंचाने की भी कोशिश कर चुका है। दिल्ली पुलिस के आईएफएसओ स्पेशल सेल ने इसकी जानकारी दी है। पुलिस हिरासत में 48 घंटे से भी ज्यादा समय रहने के बाद बिश्नोई हर घंटे कोई नया खुलासा कर रहा है। कोर्ट ने गुरुवार को बिश्नोई को सात दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा था। 

पुलिस कस्टडी में नीरज ने पूछताछ करने वाले अधिकारियों से कहा कि वे उसे Giyo कहकर पुकारें। यह नाम उसने एक जापानी कॉमिक बुक के काल्पनिक करेक्टर  Giyu Tomioka से लिया है जो राक्षसों को मारता है। पुलिस को यह भी पता लगा है कि बीते दो सालों में बिश्नोई ने Giyo के नाम से मिलते-जुलते नामों पर पांच ट्विटर अकाउंट बनाए थे, जिनके जरिए वह विवादित ऐप को न सिर्फ प्रमोट करता था बल्कि सोशल मीडिया पर महिलाओं के खिलाफ भद्दी टिप्पणियां भी करता था। 

पुलिस के मुताबिक, बिश्नोई जब 15 साल का था, तभी उसने एक स्कूल की वेबसाइट हैक की थी। वह आदतन हैकर था। बिश्नोई बीते समय में पाकिस्तान के भी कई स्कूल और यूनिवर्सिटीज के वेबसाइट हैक करने का दावा कर चुका है। फिलहाल पुलिस इन दावों की सच्चाई का पता लगाने में जुटी हुई है। बता दें कि बुधवार रात बिश्नोई को दिल्ली पुलिसी की आईएफएसओ स्पेशल सेल ने असम के जोरहाट से गिरफ्तार किया था। ग

आईएफएसओ स्पेशल सेल के डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ​​ने यह बात कही। आरोपी ने कबूल किया है कि वह ‘सुल्ली डील’ के क्रिएटर्स को जानता है, वह ऐप जहां मुस्लिम महिलाओं की नीलामी की गई थी। उसने यह भी स्वीकार किया है कि उसके पास श्वेता सिंह के यूजर अकाउंट तक पहुंच है, जिसे मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। डीसीपी ने कहा कि पुलिस हिरासत में उसकी देखभाल कर रही है। उसकी मेडिकल जांच की गई है। उन्होंने कहा कि आत्महत्या की धमकी उनकी मानसिक स्थिति के कारण हो सकती है।

बिश्नोई ने वेबसाइट हैक करने की बात कही
बुल्ली बाई ऐप के कथित सरगना और इसे बनाने वाले नीरज बिश्नोई ने यह खुलासा किया है कि उसे भारत और पाकिस्तान के विद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों की वेबसाइट को हैक करने और उनके साथ छेड़छाड़ करने की आदत है। पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here