Congress leaders fighting for CM chair weak govt needs to be shunned says Arvind Kejriwal – केजरीवाल ने चन्नी सरकार को बताया कमजोर, कहा


आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि पंजाब में मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए कांग्रेस में अंदरूनी कलह चल रही है और नेताओं को लोगों की परवाह नहीं है। पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी की सरकार को कमजोर बताते हुए केजरीवाल ने कहा यह सरकार राज्य को झकझोरने वाले बेअदबी और बम विस्फोट के मामले को सुलझाने में सक्षम नहीं है।

पटियाला में शांति मार्च के दौरान केजरीवाल ने कहा ‘एक कमजोर सरकार है और वे (सत्तारूढ़ पार्टी के नेता) मुख्यमंत्री पद के लिए आपस में लड़ रहे हैं। सत्ता के लिए लड़ाई चल रही है। हमें इस सरकार को हटाना है और एक ईमानदार सरकार लाना है।’ केजरीवाल ने स्वर्ण मंदिर में बेअदबी की कोशिश घटना की याद दिलाते हुए कहा कि एक तो वो जिसने इसका प्रयास किया था, लेकिन कोई इसका मास्टरमाइंड होगा, जो अभी तक पकड़ा नहीं गया है। 

बता दें कि स्वर्ण मंदिर में बेअदबी की कोशिश करने वाले शख्स की मंदिर परिसर में ही पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। केजरीवाल ने आगे कहा कि राज्य सरकार ने वादा किया था कि 48 घंटे के भीतर मास्टर माइंड को पकड़ लिया जाएगा। 10 दिन बीत चुके हैं। बेअदबी की घटना के कुछ दिन बाद लुधियाना में बम ब्लास्ट हुआ, कोई नहीं जानता है कि मास्टरमाइंड कौन है।

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि राज्य में शांतिपूर्ण माहौल को खराब करने के लिए बेअदबी और विस्फोट के मामले प्रोजेक्ट किए गए, पिछले विधानसभा चुनावों में भी इसी तरह की रणनीति का इस्तेमाल किया गया था। 2017 के चुनाव से पहले भी मौर मंडी में बम धमाका हुआ था… 2015 में बेअदबी की घटना हुई थी। अगर इन घटनाओं के मास्टरमाइंड से सख्ती से निपटा जाता, तो कोई भी इस तरह की हरकतों को दोहराने की हिम्मत नहीं करता।’ पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में केजरीवाल धड़ल्ले से रैलियां कर रहे हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here