Former Pakistan captain Salman Butt questions Quinton de Kock Test retirement after India win centurion test – Latest Cricket News


बॉक्सिंग डे टेस्ट में भारत के दक्षिण अफ्रीका को हराने के ठीक बाद साउथ अफ्रीका के विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर सबको चौंका दिया। इससे पहले ये पुष्टि की गई थी कि वो  पैटरनिटी लीव पर जाएंगे। डिकॉक ने संन्यास लेने को लेकर बयान दिया  कि वो परिवार के साथ ज्यादा समय बिताने के लिए टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह रहे हैं। डिकॉक ने साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट ने डिकॉक के संन्यास लेने के फैसले को लेकर उन पर निशाना साधा। बट ने कहा कि इस तरह के अचानक संन्यास से टीम का संतुलन बिगड़ जाता है और कप्तान की मानसिकता पर असर पड़ता है।

सलमान बट ने अपने यूट्यूब चैनल में कहा,’क्विंटन डिकॉक पिछले डेढ़ साल से अजीबोगरीब क्रिकेट खेल रहे थे। वह कप्तान के रूप में पाकिस्तान आए लेकिन बाद में वो उस भूमिका में बने नहीं रहे। अब एक टेस्ट खेलने के बाद उन्होंने अपने (टेस्ट) संन्यास की घोषणा की है। इस तरह की चीजें टीम के संतुलन, सिलेक्शन पॉलिसी को बिगाड़ती हैं और कप्तान की मानसिकता को प्रभावित करती हैं।’ बट ने आगे कहा कि दुनिया भर में फ्रेंचाइजी लीग युवा क्रिकेटरों को खेल के सबसे लंबे फॉर्मेट से छीन रही है। 

IND vs SA: वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान, केएल राहुल होंगे कप्तान, चोटिल रोहित हुए बाहर

उन्होंने आगे कहा,”खिलाड़ियों ने अचानक संन्यास को नाटक बना लिया है। जब आप लगभग 2 महीने तक विदेशी लीग खेलते हैं तो क्या आप परिवार के बारे में नहीं सोचते हैं? ऐसा क्यों है कि केवल टेस्ट क्रिकेट ही आड़े आता है? आप दक्षिण अफ्रीका में अपने ही देश में क्रिकेट खेल रहे हैं। इंटरेस्ट की यह कमी लीग क्रिकेट से जुड़ी है।’ बट ने यह भी कहा कि चूंकि क्रिकेट बोर्ड का किसी खिलाड़ी के संन्यास में कोई दखल नहीं होता है इसलिए खिलाड़ी इस आजादी का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि डिकॉक की तरह अचानक संन्यास कुछ ऐसी चीज है जिसे गंभीरता से देखने की जरूरत है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here