Google Chrome users alert Billions of users under high threat – Tech news hindi


अगर आप गूगल क्रोम का धड़ल्ले से इस्तेमाल सकते हैं, तो सावधान हो जाइए। दरअसल, सर्च दिग्गज द्वारा सामने आई नई जानकारी के अनुसार गूगल क्रोम (Google Chrome) यूजर्स खतरे में हैं। कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट जारी किया जिसमें ब्राउजर में कई कमजोरियों की डिटेल दी गई है, जिससे हैकिंग हो सकती है। लेकिन लगता है कि गूगल ने इन खामियों का अधिक गंभीरता से नहीं लिया है, क्योंकि इनमें से कई मुद्दों का अभी भी ठीक नहीं किया गया है।

गूगल ने क्रोम ब्लॉग पोस्ट पर 30 कमजोरियों को लिस्ट किया है, जिनमें से सात को ‘उच्च’ जोखिम के रूप में वर्गीकृत किया गया है। विंडोज, मैक और लिनक्स प्लेटफॉर्म के लिए इन कमजोरियों को देखा गया है।

कंपनी ने कहा ये

एक नोट में, गूगल ने कहा, “बग डिटेल और लिंक तक एक्सेस को तब तक प्रतिबंधित रखा जा सकता है जब तक कि अधिकांश उपयोगकर्ता फिक्स के साथ अपडेट नहीं हो जाते। यदि बग किसी थर्ड-पार्टी लाइब्रेरी में मौजूद है, जिस पर अन्य प्रोजेक्ट्स समान रूप से निर्भर हैं, लेकिन अभी तक ठीक नहीं हुई हैं, तो हम प्रतिबंध भी बनाए रखेंगे।”

बाहरी शोधकर्ताओं ने दुनिया के सबसे ज्यादा यूज किए जाने वाले ब्राउजर में कमजोरियां पाईं है। गूगल पोस्ट ने आगे कहा, “हम उन सभी सुरक्षा शोधकर्ताओं को भी धन्यवाद देना चाहते हैं जिन्होंने विकास चक्र के दौरान हमारे साथ काम किया ताकि सुरक्षा बग को स्टेबल चैनल तक पहुंचने से रोका जा सके।”

संबंधित खबरें

उपयोगकर्ता खतरे के बारे में क्या कर सकते हैं?

गूगल ने कुछ समस्याओं के समाधान पहले ही जारी कर दिए हैं। कंपनी ने दावा किया है कि विंडोज, मैक और लिनक्स के लिए अपडेट पहले ही रोल आउट हो रहा है। अपडेट आने वाले दिनों या हफ्तों में उपयोगकर्ताओं तक पहुंचना चाहिए।

यदि आपका ब्राउजर ऑटोमैटिकली अपडेट नहीं होता है, तो आप इसे मैन्युअली भी अपडेट कर सकते हैं। यहां बताया गया है कि आप यह कैसे कर सकते हैं:

गूगल क्रोम ब्राउजर को कैसे अपडेट करें:

– ऐसा करने के लिए आपको सबसे पहले क्रोम खोलना होगा।

– राइट कॉर्नर पर जाएं और तीन हॉरिजॉन्टल डॉट्स पर क्लिक करें।

– आपको एक ड्रॉप-डाउन मेनू मिलेगा।

– उस मेनू में सेटिंग विकल्प देखें।

– एक बार जब आप सेटिंग दर्ज कर लेते हैं, तो आपको हेल्प पर क्लिक करना होगा और फिर अबाउट गूगल क्रोम पर क्लिक करना होगा।

– क्रोम को कोई भी पेंडिंग अपडेट डाउनलोड करना चाहिए।

– एक बार यह इंस्टॉल हो जाने के बाद, आपको ब्राउजर को बंद करना पड़ सकता है और इसे फिर से खोलना पड़ सकता है।

(कवर फोटो क्रेडिट-pcmag)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here