gulabrao patil maharashtra legislative council deputy chairperson neelam gorhe


महाराष्ट्र विधान परिषद में उपसभापति नीलम गोरहे ने कैबिनेट मंत्री गुलाबराव पाटिल को फटकार लगा दी। हालात इतने बिगड़े कि गोहरे ने पाटिल को यह तक कह दिया कि ‘आप अपने घर पर मंत्री हैं।’ इससे पहले भी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के एमएलसी अमोल मितकारी को भी गोरहे ने हिदायत दी थी। उन्होंने राकंपा नेता से हंसने के बजाय गंभीरता से जवाब देने के लिए कहा था।

क्या था मामला

स्कूल शिक्षा मंत्री दीपक केसरकर सदन में उठाए गए सवाल का जवाब दे रहे थे। उनके जवाब से विपक्ष पूरी तरह संतुष्ट नहीं हुआ। हालांकि, बाद में केसरकर ने गुरुवार को मुद्दे पर बैठक बुलाने की भी बात कही, लेकिन विपक्ष शांत नहीं हुआ। शिवसेना एमएलसी मनीषा कायंदे का कहना है, ‘इसके बाद गुलाबराव पाटिल बीच में आए और अपनी सीट से बोलने लगे।’ 

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे कैंप में शामिल पाटिल इससे पहले उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाविकास अघाड़ी सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं।

महाराष्ट्र में अब खुलकर जांच करेगी CBI! एकनाथ शिंदे सरकार कर सकती है यह बड़ा बदलाव

पाटिल की तरफ से दी गई दखल से विपक्षी दलों के सदस्य और नाराज हो गए, जिसके चलते हंगामा हुआ और कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा। गोरहे ने पाटिल से कहा, ‘शिक्षा मंत्री सवाल का जवाब दे रहे थे… आप प्लीज बैठ जाएं। यह सवाल आपके विभाग से जुड़ा हुआ नहीं है। यह सवाल केसरकर के विभाग का है।’ उपसभापति के निर्देश के बाद भी सदन में हंगामा जारी रहा।

बाद में गोरहे ने कहा, ‘गुलाबराव पाटिल जी, मैंने समय समय पर आपको चेतावनी दी है, समझाया है। आप तत्काल अपनी सीट पर बैठ जाएं। सदन में यह किस तरह का बर्ताव है? संसदीय कार्य मंत्री, क्या आप उनसे कुछ नहीं सकते।’ पाटिल ने भी कहा, ‘मैं एक मंत्री हूं’ और बोलने का मौका मिलना चाहिए। इसपर नाराज हुईं उपसभापति ने कहा, ‘आप मंत्री हैं तो क्या। आप अपने घर में मंत्री हैं।’

भारतीय जनता पार्टी के MLC सुरेश धास ने गोरहे से परिषद के रिकॉर्ड्स से टिप्पणी वापस लेने का अनुरोध किया। इसपर उपसभापति ने जांच करने की बात कही है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here