hunarbaaz winner akash singh from bihar struggle story he worked as milkman and distributed newspaper – Entertainment News India


बिहार के आकाश सिंह हुनरबाज (Hunarbaaz winner  Akash Singh) जीत चुके हैं। अब उनकी जिंदगी पूरी तरह से बदल गई। यहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत मेहनत की है। वह अपना स्ट्रगल शो पर भी बता चुके हैं। परिणीती चोपड़ा उनको अपना भाई मानती हैं। वह भी उनकी जीत से काफी खुश हैं। आकाश 2018 में मुंबई आए और यहां खूब स्ट्रगल किया। उनके रहने की व्यवस्था मंदिर में हो गई फिर खाने के लिए उन्होंने दूध और अखबार भी बेचा। इस बीच वह खुद को निखारने के लिए भी मेहनत करते रहे। आकाश को प्राइज मनी के 15 लाख रुपये मिले हैं। आगे उन्हें लंबा सफर तय करना है।

लगता था ऑडिशन से हो जाएंगे बाहर


बिहार के आकाश सिंह हुनरबाज देश की शान 2022 शो के विनर बन चुके हैं। एक वक्त था जब उन्हें लगता था कि शायद ऑडिशन से ही बाहर हो जाएंगे। हालांकि उन्होंने साबित कर दिया कि मेहनत और पक्के इरादों के आगे दुनिया झुकती है। बॉम्बे टाइम्स से बातचीत में आकाश ने अपने स्ट्रगल के बारे में बताया। 

संबंधित खबरें

किया सिक्योरिटी गार्ड का काम


आकाश बताते हैं कि वह 2018 में एक शो के ऑ़डिशन के लिए मुंबई आए थे। वह बताते हैं, मैं इसमें तब इतना अच्छा नहीं था तो नहीं चुना गया। मैं यहीं रहा और जमकर मेहनत की। मैं शिवाजी पार्क, दादर में प्रैक्टिस करता था। एक व्यक्ति थे जिन्होंने मुझ पर दया की और रहने के लिए मंदिर में जगह दे दी। फिर मैंने आसपास के लोगों से कुछ काम मांगा ताकि मेरे खाने की व्यवस्था हो सके। मुझे न्यूजपेपर बांटने वाले की नौकरी  मिल गई। इसके बाद मैंने दूधवाले और सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर भी काम किया। इस बीच मैं अपने क्राफ्ट पर मेहनत करता रहा। इसके बाद मैंने हुनरबाज का ऑडिशन दिया। 

परिणीति ने दी ये सीख


शो की जज परिणीति चोपड़ा आकाश को अपने भाई जैसा मानती हैं। उन्होंने आकाश को सीख दी है कि कभी घमंड न करें। अब आकाश मुंबई में ही रहकर यहां काम करेंगे। वह कोरियोग्राफर के तौर पर इंडस्ट्री में काम करना चाहते हैं। उन्हें एक ऑफर मिल भी गया है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here