IAS officer Rani Nagar expressed suspect of murder posted a photo of cartridge and tabeej on Facebook


गाजियाबाद के सिहानी गेट थानाक्षेत्र के नेहरू नगर सेकेंड में रहने वाली हरियणा कैडर की आईएएस अधिकारी रानी नागर (IAS Rani Nagar) ने अपनी हत्या की आशंका जताई है। इस संबंध में उन्होंने शनिवार को अपने फेसबुक पेज पर कारतूस और ताबीज का फोटो शेयर करते हुए पोस्ट भी डाली है। 

रानी नागर मूल रूप से गौतमबुद्धनगर के बादलपुर की रहने वाली हैं और हरियाणा के सीआरआई विभाग में अतिरिक्त सचिव के पद पर तैनात हैं।

फेसबुक पोस्ट में उन्होंने ताबीज और कारतूस का फोटो शेयर किया है। उनका कहना है कि यह दोनों चीजें उन्हें डराने के इरादे से उनके घर के सामने रखी गई हैं। रानी नागर 22 जून तक अवकाश के चलते गाजियाबाद स्थित अपने पिता के आवास पर रह रही हैं।  

संबंधित खबरें

रानी नागर ने फेसबुक अपनी पोस्ट में लिखा है, ”मैं मार्च 2022 के अंत से II-A-220 नेहरू नगर गाजियाबाद उत्तर प्रदेश 201001 में अपने पिता के घर पर रह रही हूं। इन सामानों को इस मकान II-ए-220 नेहरू नगर गाजियाबाद उत्तर प्रदेश 201001 में मेरे कमरे में रखा गया है ताकि नाजायज दबाव के आगे न झुकने पर मुझे जान से मारने की धमकी दी जा सके। मैं, रानी नागर आईएएस, हरियाणा सरकार के अतिरिक्त सचिव, सीआरआई विभाग आज 23 अप्रैल 2022 को सुबह 08.09 बजे भारत के संविधान के अनुसार ईश्वर की शपथ लेकर यह बयान दर्ज करती हूं। यदि निकट भविष्य में अपराधियों द्वारा मेरी हत्या कर दी जाती है तो शपथ के इस कथन को वैध साक्ष्य के रूप में स्वीकार किया जाएगा। रानी नगर आईएएस”

बता दें कि हरियाणा सरकार पर तमाम आरोप लगाते हुए 4 मई 2020 को रानी नागर ने इस्तीफा दे दिया था, हालांकि बाद में उन्होंने अपना इस्तीफा वापस ले लिया था। उन्होंने हरियाणा में एसडीएम रहते हुए भी अपनी हत्या की आशंका जताई थी। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here