IND vs SA Virat Kohli could not score a century for two years ready for Cape Town Test BCCI shared captain kohli special training video – Latest Cricket News


भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच मंगलवार को तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच में निर्णायक जंग होंगी। तीन मैचों की यह सीरीज 1-1 से बराबर है और दोनों ही टीमें आखिरी मैच में जीत के साथ सीरीज पर कब्जा कर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप तालिका में ऊपर की ओर बढ़ना चाहेंगी।  वहीं कप्तान विराट कोहली अपने पिछले दो साल के शतक के सूखे को खत्म करने उतरेंगे।

बीसीसीआई ने सोमवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली बल्लेबाजी प्रैक्टिस करते हुए नजर आ रहे हैं। विराट इस सीरीज में भी अपनी क्षमता के मुताबिक नहीं खेल सके हैं। कप्तान ने पहले टेस्ट मैच में 35 और 18 रन की पारी खेली थी, जबकि जोहानिसबर्ग टेस्ट में पीठ में जकड़न की वजह से नहीं खेल सके थे।

 

 

 

बांग्लादेश के खिलाफ जड़ा था अपना आखिरी शतक

विराट कोहली टीम के लिए लगातार समय से रन बना रहे हैं। लेकिन मौजूदा टीम में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले विराट कोहली पिछले दो साल से एक भी शतक नहीं लगा सके हैं, जिसके कारण उन पर सवाल उठ रहे हैं। उनका पिछला शतक डे-नाइट टेस्ट में 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ आया था। इस मैच में विराट कोहली ने 136 रन की पारी खेलते हुए अपना 27वां टेस्ट शतक पूरा किया था और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनका ये 70वां शतक था।  

सीरीज जीतने पर होंगी टीम की नजरें
भारत के लिए इस मैच में जीत कई मायनों में महत्वपूर्ण होगी। दरअसल भारत ने इससे पहले दक्षिण अफ्रीका में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। इससे पहले पिछली  तीन टेस्ट श्रंखलाओं में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को दो में हराया था, जबकि एक ड्रॉ हुई थी। 2006-07 में दक्षिण अफ्रीका 2-1 और 2013-14 में 1-0 से जीता था, जबकि 2010-11 में खेली गई सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही थी। वहीं भारत तीन पेनल्टी ओवरों के कारण डब्ल्यूटीसी अंक तालिका में तीन बहुमूल्य अंक भी कटवा चुका है, इसलिए उसके लिए इस मैच में जीत के साथ सीरीज जीतना महत्वपूर्ण होगा।

 

IND vs SA: मोहम्मद सिराज की जगह इशांत शर्मा या उमेश यादव? जानें कप्तान विराट कोहली ने क्या दिया जवाब

 

भारत का विजयी क्रम रोकना चाहेगा अफ्रीका
वहीं दूसरी ओर दक्षिण अफ्रीका का लक्ष्य नंबर एक टेस्ट पक्ष  भारत का विजयी क्रम रोकते हुए अन्य मजबूत टीमों के सामने एक उदाहरण पेश करना होगा। दक्षिण अफ्रीका के लिए अच्छी बात उसके शीर्ष और मध्य क्रम की बल्लेबाजों और तेज गेंदबाजों का फॉर्म आना है। दक्षिण अफ्रीका की दूसरे मैच में बड़ी जीत का श्रेय इन्हीं को गया था। बल्लेबाजी में जहां कप्तान डीन एल्गर, कीगर पीटरसन और तेम्बा  बावुमा ने शानदार पारियां खेली थीं, वहीं युवा तेज गेंदबाज मार्को यानसन, अनुभवी कैगिसो रबादा, डुआने ओलिवियर और लुंगी एनगिदी ने घातक गेंदबाजी की थी, जिसके चलते दक्षिण अफ्रीका ने भारत को दूसरे टेस्ट मैं एकतरफा अंदाज में सात विकेट से हरा दिया था, जबकि पहले मैच में भारत ने लोकेश राहुल के शानदार शतक की बदौलत दक्षिण अफ्रीका को 113 रन के बड़े अंतर से हराया था।

 

 

 

भारतीय मध्य क्रम को दिखाना होगा दम
भारत तीसरे मैच में अच्छा प्रदर्शन करना चाहेगा। यकीनन नियमित कप्तान विराट कोहली की वापसी से टीम को मजबूती मिलेगी। सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं, लेकिन कहीं न कहीं मध्य क्रम कमजोर दिख रहा है। अनुभवी बल्लेबाजों चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे ने बेशक पिछले मैच की दूसरी पारी में अर्धशतक जड़े थे, लेकिन दोनों का लंबी पारियां न खेल पाना टीम के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। भारत की तरफ से गेंदबाजी भी ठीक हो रही है। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर अच्छे फॉर्म दिख रहे हैं। शार्दुल ने पिछले मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए 61 रन पर सात विकेट लेकर अपने टेस्ट करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था। सिराज चोटिल हैं और उनकी जगह इशांत शर्मा या उमेश यादव में से किसी एक को चुना जाना है।

 

 

 

 

IND vs SA: विराट कोहली ने फॉर्म को लेकर हो रही आलोचना पर दिया करारा जवाब, कहा- मुझे नहीं लगता कि

 

भारत फिलहाल डब्ल्यूटीसी अंक तालिका में 55.21 की जीत प्रतिशत और 53 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। वहीं दक्षिण अफ्रीका 50 की जीत प्रतिशत और 12 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है। नश्चिति रूप से तीसरा और आखिरी टेस्ट मैच और श्रृंखला जीतने वाली टीम को अंक तालिका में फायदा होगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here