India Women won by 30 runs against Malaysia by DLS method in Womens Asia Cup 2022


सलामी बल्लेबाज सबिनेनी मेघना ने शीर्ष क्रम में मिले मौके का पूरा फायदा उठाते हुए अपने करियर का पहला टी20 अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक जड़ा जिससे भारत ने सोमवार को एशिया कप के बारिश से बाधित मैच में मलेशिया को डकवर्थ लुईस पद्धति से 30 रन से हराया। उप कप्तान स्मृति मंधाना की जगह शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी के लिए उतरी मेघना ने 53 गेंदों पर 69 रन बनाए जो उनके करियर का सर्वोच्च स्कोर है। इससे भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 181 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में मलेशिया जब 5.2 ओवर में दो विकेट पर 16 रन बनाकर संघर्ष कर रहा था तब बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा। इसके बाद आगे खेल नहीं हो पाया और उस समय डकवर्थ लुईस पद्धति के हिसाब से बराबरी का स्कोर 46 रन था।

विराट कोहली नहीं खेलेंगे तीसरा T20I, सीरीज के बीच मुंबई रवाना

इस जीत से भारत अंक तालिका में चार अंकों के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। पाकिस्तान शीर्ष पर काबिज है। इससे पहले भारत को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किए जाने के बाद मेघना शुरू से ही मलेशियाई गेंदबाजों पर हावी हो गई। उन्होंने प्रत्येक ओवर में चौके जड़े और मैदान के चारों तरफ शॉट खेले। इससे भारत पावर प्ले में बिना किसी नुकसान के 47 रन बनाने में सफल रहा।

अपने तूफानी तेवरों के लिए मशहूर शेफाली वर्मा ने 46 रन बनाए लेकिन अपनी इस पारी के दौरान भी वह पूरे रंग में नहीं दिखी। शेफाली पिछले कुछ समय से रन बनाने के लिए जूझ रही हैं। मेघना जब 14 रन पर खेल रही थी तब मलेशिया की कप्तान विनिफ्रेड दुरईसिंगम (36 रन देर दो विकेट) ने उनका कैच छोड़ा जो मलेशिया को महंगा पड़ा। दाएं हाथ की इस बल्लेबाज ने चौका जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया।

T20 WC: भारतीय टीम के साथ ये दो तेज गेंदबाज भी जाएंगे ऑस्ट्रेलिया!

मलेशिया का क्षेत्ररक्षण भी अच्छा नहीं था और एक समय लग रहा था कि भारतीय टीम 200 से अधिक रन बनाने में सफल रहेगी। दुरईसिंगम ने हालांकि आखिर में मेघना का महत्वपूर्ण विकेट लिया। अब तक केवल मेघना की सहयोगी की भूमिका निभा रही शेफाली ने दो छक्के जड़े लेकिन वह पहले की तरह रन प्रवाह कायम रखने में असफल रही। रिचा घोष को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया और विकेटकीपर बल्लेबाज ने 33 रन की प्रवाहमय पारी खेली।

शेफाली को 17 वर्षीय नूर दानिया स्यूहादा (नौ रन देकर दो विकेट) ने 19वें ओवर की पहली गेंद पर बोल्ड किया और फिर अगली गेंद पर किरण नवगीरे (शून्य) को पवेलियन भेजा। यदि रिचा को 31 रन के निजी योग पर जीवनदान नहीं मिलता तो इस स्पिनर के नाम तीन विकेट दर्ज होते। इसके बाद जब मलेशियाई पारी शुरू हुई तो भारतीय स्पिनर दीप्ति शर्मा (10 रन देकर एक विकेट) और राजेश्वरी गायकवाड़ (छह रन देकर एक विकेट) ने बारिश के कारण खेल रोके जाने से पहले सलामी बल्लेबाज विनिफ्रेड दुरईसिंगम (शून्य) और वान जूलिया (एक) को आउट कर दिया था।  



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here