IPL 2022 Ravi Shastri not happy with making Ravindra Jadeja CSK captain said if Dhoni had to leave the captaincy then Faf du Plessis did not have to release


आईपीएल 2022 में गत चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स का निराशाजनक प्रदर्शन जारी है। अभी तक खेले 4 मुकाबलों में सीएसके को हार का सामना करना पड़ा है। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पिछले मैच में हार का मुंह देखने के बाद यह टीम प्वाइंट्स टेबल में सबसे नीचे 10वें स्थान पर पहुंच गई है। सीएसके के प्रदर्शन को देखकर ऐसा लग रहा है कि कप्तान बदलने के साथ-साथ टीम की किस्मत भी पटल गई है। धोनी ने सीजन 15 के शुरू होने से कुछ ही दिन पहले कप्तानी छोड़े का फैसला किया जिसके बाद सीएसके के मैनेजमेंट ने रविंद्र जडेजा को यह जिम्मेदारी सौंपी। मगर भारतीय पूर्व कोच रवि का मानना है कि अगर धोनी को कप्तानी छोड़नी ही थी तो उन्हें फाफ डु प्लेसी को रिलीज नहीं करना चाहिए थे।

सीएसके ने आईपीएल ऑक्सन से पहले धोनी, जडेजा समेत मोइन अली और ऋतुराज गायकवाड़ को रिटेन किया था। उन्होंने सलामी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसी को रिलीज कर दिया था और नीलामी में उन्हें आरसीबी ने अपने खेमें में शामिल कर कप्तान बनाया।

ऋषभ पंत ने एक ही मैच के बाद 6.50 करोड़ के इस खिलाड़ी को दिखाया बाहर का रास्ता, पिछले मैच में हुई थी ये गलती

संबंधित खबरें

रवि शास्त्री का मानना है कि अगर एमएस धोनी चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी छोड़ने की सोच रहे थे, तो फ्रेंचाइजी को फाफ डु प्लेसी को रिलीज नहीं करना चाहिए था और जडेजा की बजाय उन्हें बागडोर सौंप देनी चाहिए थी। शास्त्री ने कहा कि जडेजा को सीएसके को खुलकर खेलने की आजादी देनी चाहिए थी।

ईएसपीएनक्रिकइन्फो से कहा “मुझे लगता है कि जडेजा जैसे किसी को अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए। अगर चेन्नई दोबार इस पर सोचती, तो वे फाफ डु प्लेसिस को जाने नहीं देती। डु प्लेसी एक मैच विजेता हैं, उसने चेन्नई के साथ आईपीएल जीता है, उसके पास बहुत अनुभव है।”

महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल के पहले सीजन से ही चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान थे। 2008 से उन्होंने 2021 तक इस टीम की कमान संभाली, हालांकि दो सीजन के बैन के कारण यह टीम खेल नहीं पाई थी। धोनी ने अपनी कप्तानी में सीएसके को चार बार खिताब जिताया है।

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here