Jahangirpuri violence case : Sheikh Hameed arrested for provide bottles used in clash


दिल्ली पुलिस ने जहांगीरपुरी हिंसा मामले की जांच के दौरान सोमवार को एक और आरोपी 36 वर्षीय शेख हमीद को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। शेख हमीद कबाड़ का व्यापारी है। उत्तर-पश्चिमी जिला पुलिस की डीसीपी उषा रंगनानी बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने खुलासा किया है कि उसने ही उन बोतलों की सप्लाई की थी जो घटना के दौरान पथराव के लिए इस्तेमाल की गई थी। 

डीसीपी ने बताया कि इलाके में में अमन-चैन कायम रखने के लिए आज दोपहर 1:30 बजे जहांगीरपुरी थाने में अमन कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया था। सभी सदस्यों को अपने-अपने समुदायों से सद्भाव बनाए रखने और अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील करने के लिए कहा गया है।

जहांगीरपुरी में फिर बिगड़े हालात, ‘गोलीबाज’ की पत्नी से पूछताछ पर पत्थरबाजी

संबंधित खबरें

गौरतलब है कि जहांगीरपुरी में शनिवार को हनुमान जयंती के दिन निकाली गई शोभायात्रा पर पथराव के बाद दो समुदायों में हिंसा भड़क गई थी। इस दौरान पत्थरों के साथ खाली बोतलों का भी जमकर इस्तेमाल किया गया था। इस हिंसा में जमकर तोड़फोड़ करने के साथ ही कुछ वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया था। हिंसा में एक सब-इंस्पेक्टर को गोली लगने के साथ ही कुल 9 लोग घायल हो गए थे, जिनमें से 8 पुलिसकर्मी हैं। इस घटना की जांच के लिए अब स्थानीय पुलिस के साथ ही क्राइम ब्रांच को भी लगा दिया गया है। इस मामले में अब तक 24 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

जहांगीरपुरी हिंसा की जांच के लिए 14 टीमों का गठन 

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने सोमवार को कहा कि शनिवार को जहांगीरपुरी में हुईं हिंसक झड़पों की जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है और इसे सिलसिले में 14 टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि चार फॉरेंसिक टीमों ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर सबूत इकट्ठा किए हैं। अस्थाना कहा कि सीसीटीवी फुटेज और डिजिटल जानकारी के विश्लेषण के माध्यम से सभी एंगल से मामले की जांच की जाएगी। जहांगीरपुरी हिंसा के सिलसिले में अब तक दोनों समुदायों के 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

कमिश्नर ने कहा कि हिंसा में शामिल लोगों को धर्म और जाति के आधार पर बख्शा नहीं जाएगा। अस्थाना ने इन दावों का भी खंडन किया कि हनुमान जयंती शोभायात्रा के दौरान जहांगीरपुरी की एक स्थानीय मस्जिद में भगवा झंडा फहराने का प्रयास किया गया था। उन्होंने कहा कि कुछ लोग स्थिति को तनावपूर्ण बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया पर अफवाहें फैलाने की कोशिश कर रहे है। उन्होंने लोगों से इन पर ध्यान न देने की अपील की है। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here