jammu and kashmir Police to test slain militants DNA suspecting involved in 2019 Pulwama attack


जम्मू और कश्मीर पुलिस एक आतंकवादी का डीएनए (DNA) टेस्ट करवाना चाहती है। इस मरे हुए आतंकवादी का कनेक्शन पुलवामा अटैक से बताया जा रहा है। आपको बता दें कि देश के दुश्मनों के द्वारा किये गये इस कायराना हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 40 जवान शहीद हो गए थे।

जम्मू और कश्मीर पुलिस के मुखिया विजय कुमार ने शनिवार को कहा कि अनंतनाग मुठभेड़ में मारे गए तीन में से एक आतंकवादी का DNA टेस्ट करवाया जाएगा। दरअसल आशंका जताई जा रही है कि यह आतंकवादी साल 2019 में हुए पुलवामा अटैक में शामिल था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। 

जैश का कमांडर है मारा गया आतंकी?

जम्मू और कश्मीर पुलिस के आईजी विजय कुमार ने बताया कि अनंतनाग मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों में से एक का चेहरा प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के शीर्ष कमांडर समीर डार से मिल रहा है। समीर डार पुलवामा आतंकी हमले का अंतिम जिंदा आतंकवादी बताया जा रहा है। बता दें कि अनंतनाग में 30 दिसंबर को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए थे।

कौन हैं मुठभेड़ में ढेर हुए 3 आतंकवादी

आईजी ने एक ट्वीट कर डीएनए सैंपल की जांच कराए जाने की जानकारी दी है। पुलिस ने कहा है कि साउथ कश्मीर के नौगाम डोरू इलाके में हुए मुठभेड़ में ढेर हुए तीनों आतंकवादियों के शव बरामद कर लिये गये हैं। इन तीनों की पहचान सुल्तान उर्फ रेयास उर्फ माविया (विदेशी आतंकवादी), निसार अहमद खांडे और अल्ताफ अहमद शाह के तौर पर हुई है। अल्ताफ अहमद नाथीपोरा डोरू का रहने वाला है तो वहीं निसार डडवांगन कपरान का रहने वाला है। 

जेवन हमले के आतंकी मारे गए

पुलिस ने बताया कि शाह और सुल्हान और एक अन्य आतंकवादी सुहैल राठेर श्रीनगर के जेवन में हुए आतंकवादी हमले में भी शामिल थे। इस हमले में 3 पुलिसकर्मी शहीद हुए थे और 11 से ज्यादा घायल हुए थे। सुहैल को पंथा चौक पर हुए एक अलग एनकाउंटर में ढेर किया गया था।
 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here