Kanniyakumari To Khardung La On An Bounce Infinity E1 Electric Scooter


इलेक्ट्रिक स्कूटर से कितनी दूरी का सफर तय किया जा सकता है। 100km, 200km, 500km या शायद 1000km या उससे थोड़ा सा और ज्यादा। लेकिन हम यहां आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बता रहे हैं जिन्होंने इलेक्ट्रिक स्कूटर से 4340km से ज्यादा का सफर तय कर लिया। जी हैं, इस शख्स का नाम है गिरीश शेठ। गिरीश ने बाउंस इनफिनिटी E1 (Bounce Infinity E1) इलेक्ट्रिक स्कूटर से कन्याकुमारी से लेह के खारदुंग ला तक का सफर तय कर डाला।

ऐसे तय किया 4340km का सफर

>>
गिरीश शेठ यूट्यूबर हैं। उन्होंने कन्याकुमारी से लेह के खारदुंग ला तक 4340km से ज्यादा का सफर 19 दिनों में तय किया। गिरीश के साथ एक सपोर्टिंग टीम भी रही। इस टीम के पास 6 बैटरी थीं। जरूरत पड़ने पर इन बैटरी को स्वाइप किया जाता है। गिरीश ने अपने इस सफर के बारे में बताया कि उन्हें स्कूटर पावर मोड पर चलाना पड़ा। इस मोड पर 65kmph की स्पीड मिली। इस मोड पर बाउंस इनफिनिटी E1 ने 55km की रेंज दी।

>> इस उपलब्धि के बारे में दावा किया जा रहा है कि बाउंस इनफिनिटी E1 K2K की सवारी को पूरा करने के लिए स्वैपेबल बैटरी वाला पहला इलेक्ट्रिक स्कूटर है। गिरीश ने यह भी बताया कि इनफिनिटी E1 ने हर दिन औसतन 200 किमी की दूरी तय की। जबकि इस सफर के दौरान उन्होंने एक दिन में मैक्सिमम 330 किमी की दूरी तय की। इस पूरे सफर के दौरान 83 बैटरी स्वैप की गईं। बता दें कि इस ई-स्कूटर का प्रोडक्शन भिवाड़ी (राजस्थान) में किया जा रहा है। इस प्लांट की हर साल 1 लाख 80 हजार स्कूटर तैयार किए जाते हैं।

ये भी पढ़ें- यामाहा ने रेट्रो लुक के साथ नया स्कूटर लॉन्च किया, मोबाइल स्क्रीन जैसा स्पीडोमीटर दिया; जानिए कीमत

बाउंस इनफिनिटी E1 के फीचर्स

बाउंस इनफिनिटी E1 इलेक्ट्रिक स्कूटर BLDC हब मोटर द्वारा ऑपरेट होता है, जो 83Nm का पीक टॉर्क और 65kmph की टॉप स्पीड का दावा करता है। इसमें दो राइडिंग मोड हैं ईको और पावर मिलते हैं। कंपनी का दावा है कि ईको मोड में 65km और पावर मोड में 55km की रेंज मिलती है। इनफिनिटी E1 भारत में बैटरी पैक के साथ और बिना बेचे जाने वाला अपनी तरह का पहला इलेक्ट्रिक स्कूटर है। बैटरी पैक और चार्जर वाले इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत 68,999 रुपए है। वहीं बिना बैटरी वाले स्कूटर की कीमत 45,099 रुपए है। ये कीमतें FAME II और राज्य सब्सिडी के बाद हैं।

कंपनी का बैटरी स्वैपिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर

कंपनी ई-स्कूटर खरीदने वाले ग्राहकों को दो ऑप्शन दे रही है। पहला बैटरी के साथ ई-स्कूटर खरीदें, और दूसरा बिना बैटरी के। यदि ग्राहक बिना बैटरी के स्कूटर खरीदता है तब उसकी कीमत भी कम हो जाएगी। ऐसे में ग्राहक स्कूटर चलाने के लिए कंपनी के बैटरी स्वैपिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर की मदद ले पाएगा। स्कूटर में 48V 39 AH पोर्टेबल लीथियम-ऑयन बैटरी दी है, जो 4-5 घंटे में फुल चार्ज हो जाती है। इस पर 3 साल या 5000 km की वारंटी भी मिल रही है।

ये भी पढ़ें- दुनिया के सबसे ऊंची लोकेशन पर पहुंची महिंद्रा की ये इलेक्ट्रिक गाड़ी, आनंद बोले- टॉप पर जाने के लिए थैंक्स

बैटरी स्वैपिंग करना बेहद आसान होगा

बाउंस के बैटरी स्वैपिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर का फायदा उन सभी ग्राहकों को मिलेगा जो स्कूटर चार्ज करना भूल जाते हैं। इस वजह से कंपनी ने अपने ई-स्कूटर में इस तरह की टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है। स्कूटर में इस तरह की बैटरी को लगाया गया है जिसे आसानी से निकाला और लगाया जा सकता है। इतना ही नहीं, बैटरी को निकालकर घर के अंदर या किसी भी जगह पर चार्जर की मदद से चार्ज कर पाएंगे।

4400 स्वैपिंग स्टेशन तैयार होंगे

स्मार्ट मोबिलिटी सॉल्यूशंस कंपनी बाउंस ने अपने बैटरी स्वैपिंग इंफ्रास्ट्रक्चर का बढ़ाने के लिए रीडअसिस्ट, हेलोवर्ल्ड, किचन@ और गुडबॉक्स के साथ पार्टनरशिप की है। ये सभी मिलकर 10 शहरों की 900 लोकेशन पर बैटरी स्वैपिंग इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करेंगी। इसके अलावा उसने पार्क+ कंपनी के साथ भी पार्टनरशिप की है। ये दोनों देश के 10 शहरों में 3,500 ईवी बैटरी स्वैपिंग स्टेशन तैयार करेंगी। ग्राहक के लिए बैटरी स्वैपिंग को आसान बनाने के लिए ऐप तैयार किया जाएगा। इसमें निकटतम स्वैपिंग स्टेशन के साथ पार्किंग खोजने जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here