Kevin Pietersen says Replacing Joe Root wont help as players are not good enough in England setup – केविन पीटरसन का दावा


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज और अब वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिली हार के बाद जो रूट से इंग्लैंड की टेस्ट टीम की कप्तानी छीने जाने की बात कही जा रही है। उन पर कप्तानी छोड़ने का दबाव भी है, लेकिन पूर्व कप्तान केविन पीटरसन का मानना है कि जो रूट को कप्तानी पद से हटाने से कुछ हासिल नहीं होगा, क्योंकि टीम के पास क्वालिटी प्लेयर नहीं हैं। केविन पीटरसन का कहना है कि इंग्लैंड की टीम का ऐसा प्रदर्शन कप्तान जो रूट की वजह से नहीं, बल्कि गुणवत्ता वाले खिलाड़ियों की कमी के कारण है।

उधर, जो रूट ने भी स्पष्ट कर दिया है कि अभी उनका कप्तानी पद छोड़ने का कोई इरादा नहीं है। जो रूट पिछले 5 साल से टेस्ट टीम के कप्तान हैं और वे 64 टेस्ट मैचों में कप्तानी कर चुके हैं, जो नेशनल रिकॉर्ड है। 2008 और 2009 के बीच इंग्लैंड की कप्तानी करने वाले पीटरसन का मानना ​​है कि बड़ी समस्या टीम की समग्र क्षमता के साथ है। पीटरसन ने टॉकस्पोर्ट पर कहा, “एक कप्तान के रूप में आप उतने ही अच्छे हैं जितने कि आपके खिलाड़ी।” 

उनका कहना है, “किसी भी बिजनेस के सीईओ के रूप में आप केवल अपनी टीम के रूप में उतने ही अच्छे हैं। मेरा सवाल यह है कि कौन कप्तानी संभालेगा और इन खिलाड़ियों के साथ बेहतर काम कौन करेगा? जो रूट को भूल जाइए, यह खिलाड़ियों के बारे में है। इंग्लैंड के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी की क्षमता के साथ कौन बेहतर काम करने जा रहा है? यह जो रूट की गलती नहीं है। अगर वे कप्तान नहीं हैं तो आप किसे चुनने जा रहे हैं?” 

संबंधित खबरें

केविन पीटरसन का कहना है कि आपके पास अच्छे स्पिनर नही हैं। आपके पास जैक लीच हैं, लेकिन आप उन्हें अच्छा स्पिनर मानते नहीं हैं तो क्या दूसरा विकल्प डोम बेस हैं, अगर ऐसा है तो आप मजाक कर रहे हैं। तो आप सभी इस समय जो रूट पर उंगलियां उठा रहे हैं, रूट पर उंगलियां न उठाएं, सेटअप को समझें। सेटअप बहुत की खराब है। वहीं, कुछ लोग बेन स्टोक्स को कप्तानी सौंपने की बात कर रहे हैं, लेकिन पीटरसन का कहना है कि ऐसा करने से कोई फायदा नहीं होगा। 

 


 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here