Maharashtra may face lockdown if more than 40 per cent of COVID-19 beds in hospitals government reply


देश में कोरोना महामारी के प्रकोप मामले में महाराष्ट्र पहले नंबर पर है। महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले भी सर्वाधिक हैं। इस महासंकट के बीच राज्य के स्वास्थ्य महकमे ने गुरुवार को कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन पर तब विचार किया जाएगा जब ऑक्सीजन की मांग 800 मीट्रिक टन प्रतिदिन से ज्यादा होगी। विभाग ने आगे कहा कि जब अस्पतालों में 40 प्रतिशत से अधिक कोरोना बेड हो जाएंगे तो लॉकडाउन या लॉकडाउन जैसे प्रतिबंधों पर विचार किया जाएगा। हालांकि अभी ऐसी स्थिति नहीं है।

गुरुवार को एएनआई से बात करते हुए महाराष्ट्र के चिकित्सा मंत्री अमित देशमुख ने कहा कि ऐसा अनुमान है कि कोरोना के मामले फरवरी के मध्य तक चरम पर जा सकते हैं और मार्च के मध्य तक कम हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि मॉल और सिनेमा हॉल को बंद करने की योजना अभी नहीं बनाई जा रही है, लेकिन अगर बड़े फैसले की आवश्यकता होती है, तो मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ही अंतिम निर्णय लेंगे।

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में अब तक कोविड​​​​-19 के ओमिक्रॉन वैरिएंट के 2,630 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। जिनमें से 797 मामले अकेले महाराष्ट्र से सामने आए हैं, जो देश में सबसे अधिक है। इसके बाद नई दिल्ली में 465 मामले सामने दर्ज हुए हैं।

वहीं, भारत ने पिछले 24 घंटों में 90,928 नए कोविड​​​​-19 मामले दर्ज किए। गुरुवार को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहा कि दैनिक सकारात्मकता दर 6.43 प्रतिशत है जबकि साप्ताहिक सकारात्मकता दर 3.47 प्रतिशत तक पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना से 325 लोगों की मौत हुई, जिसके बाद मरने वालों का आंकड़ा 4,82,876 हो गया है। इसके साथ, देश में कोरोना के सक्रिय मामले 2,85,401 हो गए हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here