Mahindra owned SsangYong Motor sold for 255 million Dollar


दक्षिण कोरिया की SsangYong Motor कंपनी ने सोमवार को जानकारी देते हुए बताया कि एक स्थानीय संघ ने 305 बिलियन वोन यानि लगभग 254.56 मिलियन डॉलर में उनका अधिग्रहित कर लिया है। इसका मेजोरिटी शेयर रखने वाली कंपनी महिंद्रा को SsangTong Motor के लिए एक नया खरीदार खोजने में विफल रहने के बाद कंपनी कई महीनों से अदालती रिसीवरशिप के अधीन थी।

SsangYong Motor का पुराना समय काफी खराब रहा है और कंपनी ने कई बार नुकसान झेला है। महिंद्रा एंड महिंद्रा ने 2010 में साउथ कोरियाई कंपनी में नियंत्रण हिस्सेदारी हासिल कर ली थी और उम्मीद थी कि एसयूवी बॉडी टाइप के निर्माण से फिर बाजार में पकड़ बनाने में मदद मिलेगी। 

महिंद्रा ने अप्रैल 2020 में इसमें और पैसा नही लगाने ऑप्शन चुना और इसके लिए खरीदार की तलाश शुरू कर दी। सांगयांग मोटर ने जानकारी दी थी कि कंपनी करीब 408 करोड़ रुपये का कर्ज हो ज वह नहीं चुका सकी है। सांगयांग मोटर के मुताबिक कंपनी पर कुल 100 अरब कोरियाई वॉन का कर्ज बकाया था। कर्ज ना चुका पाने के कारण उसने दिवालिया होने के आवेदन किया था। 

सैंगयोंग मोटर के लिए हाल का समय कोविड-19 महामारी के कारण बड़ा खराब रहा। रॉयटर्स ने बताया कि SsangYong Motor ने 2021 में व्हीकल की बिक्री कम होकर 84,000 के आसपास तक जा पहुंची थी, जो पिछले वर्ष की तुलना में 21 फीसदी कम है। जनवरी से सितंबर 2021 के बीच कंपनी को 238 बिलियन वोन का घाटा हुआ।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here