Mukesh Khanna slammed Adipurush and Saif Ali Khan said he looks like Mughal – ‘आदिपुरुष’ विवाद में कूदे मुकेश खन्ना, बोले


‘आदिपुरुष’ के टीजर रिलीज के बाद जो विवाद शुरू हुआ है उसमें नेताओं के बाद अब कलाकारों की ओर से प्रतिक्रिया आने लगी है। ‘रामायण‘ में सीता बनीं दीपिका चिखलिया के बाद अब मुकेश खन्ना ने टीजर को लेकर नाराजगी जाहिर की। मुकेश खन्ना ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो शेयर किया है और उन्होंने इस पूरे विवाद पर फिल्म के कलाकारों से लेकर मेकर्स तक पर निशाना साधा है। अभिनेता ने कहा कि ‘सैफ अली खान ने जब रावण का रोल करते हुए कहा था कि मैं इसे ह्यूमर का रूप देना चाहता हूं तभी मैंने इस पर अपनी प्रतक्रिया दी थी। बात जब रामायण की करते हैं तो इसका मतलब है कि रामायण का फायदा उठाना चाहते हैं। आप कौन होते हैं हमारे धर्म का मजाक उड़ाने वाले। अपने धर्म पर कुछ कहकर दिखाइए। है आपकी हिम्मत? ‘

बायकॉट की बताई वजह


मुकेश खन्ना फिल्मों के बायकॉट से इसे जोड़ते हुए कहते हैं, ‘ऐसे वक्त में जब फिल्मों का जगह-जगह बायकॉट हो रहा है आप फिर से ऊंगली दे रहे हैं तो लोग हाथ तो पकड़ ही लेंगे। आप धर्म का मजाक उड़ाते हुए दिख रहे हैं। ना राम, राम की तरह दिख रहे हैं। ना हनुमान, हनुमान की तरह दिख रहे हैं। ना रावण, रावण लग रहा है। फिर आप इसे अभिव्यक्ति की आजादी कहेंगे। आप इसे अपने धर्म पर करके दिखाइए।‘

‘टीजर यह है तो फिल्म कैसी होगी‘


मुकेश खन्ना ने कहा, ‘हमारे मन में यह धारणा है कि जो राम होते हैं उनकी मूंछ कभी नहीं होती। जो लोग हनुमान की पूजा करते हैं उन्हें भगवान की हर इमेज याद है। आप फिल्म में हनुमान को इस तरह दिखा देंगे। अब आप कहेंगे कि ये टीजर है। अगर ऊपर का लिफाफा ये है तो फिल्म कैसी होगी। आप इसे आदिपुरुष कहते हैं तो मेरी इस पर आपत्ति नहीं है लेकिन प्रमोशन में आप इसे रामायण कह रहे हैं। बाहुबली को राम बना दिया और सैफ अली खान को रावण बना दिया।‘

‘ऐसी फिल्में नहीं चलेंगी’

 

‘बहुत से लोग पूछेंगे कि आप कौन होते हैं ऐसा कहने वाले। मैं कहना चाहता हूं कि इस तरह आस्था से खिलवाड़ करके फिल्म नहीं चलेगी। भले ही आप 450 करोड़ लगा रहे हों। लोग वो आस्था आपसे वापस ले लेंगे फिर आप कहीं के नहीं रहेंगे। आजकल देख ही रहे हैं कि किस तरह फिल्मों का बायकॉट हो रहा है। फिल्में चल नहीं रही हैं।‘

‘लोगों का रिएक्शन आएगा‘


मुकेश आगे अपनी बात जारी रखते हैं, ‘राम को मूंछ दी गई है। मुझे नहीं पता लोग इसे कितना एक्सेप्ट कर लेंगे। अब मैं रावण को देख रहा हूं। कहा जा रहा है ये खिलजी जैसा लग रहा है। सच बात है इसे मुगल रूप दे दिया गया है। कहां रामायण, कहां मुगल रूप। मजाक कर रहे हैं क्या आप? नहीं चलेगी ये। इसका रिएक्शन आएगा। सिर्फ स्पेशल इफेक्ट्स से रामायण और महाभारत नहीं बन सकती। आप अवतार (फिल्म) का लुक देकर इसे रामायण मत कहिए। यह अच्छा संकेत नहीं है। लोग रिएक्शन देंगे।‘ 

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here