Mumbai Indians Sunrisers Hyderabad Chennai Super Kings have won IPL titles since 2016 but have been laggy in 2022 so far


26 मार्च से आईपीएल 2022 का आगाज हो चुका है। सीजन 15 को शुरू हुए अभी महज 10 ही दिन हुए हैं मगर इस रंगारंग लीग का रोमांच अपने चरम पर है। इस बार कुल 10 टीमें हिस्सा ले रही है तो प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए टीमों को काफी मेहनत करनी होगी। अभी तक नई फ्रेंचाइजी गुजरात टाइंट्स और लखनऊ सुपर जाइंट्स के साथ कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स ने काफी प्रभावित किया है। मगर दूसरी तरफ सनराइजर्स हैदराबाद, चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस जैसी चैंपियन टीमों ने निराश किया है। 2016 से हैदराबाद 1, चेन्नई 2, और मुंबई 3 खिताब जीता है मगर आईपीएल 2022 में यह तीनों ही टीमें अभी तक खाता नहीं खोल पाई है। हैदराबाद 2 में से 2 मैच हारकर 10वें तो सीएसके और एमआई हार की हैट्रिक लगाते हुए क्रमश: 8वें और 9वें पायदान पर है।

कप्तान बदलते ही पलटी चेन्नई सुपर किंग्स की किस्मत

गत विजेता चेन्नई सुपर किंग्स का आईपीएल 2022 में आगाज काफी निराशाजनक रहा है। ओपनिंग मुकाबले में उन्हें कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों हारा का सामना करना पड़ा वहीं, दूसरे मुकाबले में उन्हें लखनऊ सुपर जाइंट्स और फिर पंजाब ने धूल चटाई। ऐसा लग रहा है कि कप्तान बदलते ही सीएसके की किस्मत भी पलट गई है। धोनी ने सीजन के आगाज से कुछ ही दिन पहले ही कप्तानी के पद से हटने का फैसला किया। फ्रेंचाइजी ने धोनी की जगह रविंद्र जडेजा को यह जिम्मेदारी सौंपी है। अब देखना होगा कि कैसे जडेजा सीएसके की वापसी करवाते हैं।

संबंधित खबरें

मुंबई इंडियंस का भी बुरा हाल

आईपीएल 2022 के ऑक्शन के बाद मुंबई इंडियंस की टीम पूरी तरह से बदली हुई नजर आ रही है। पांड्या ब्रदर्स की तो इस टीम को कमी खल ही रही है साथ ही उनका तेज गेंदबाजी आक्रमण भी पहले की तरह मजबूत नहीं रहा। जसप्रीत बुमराह ही एकमात्र बड़ा नाम गेंदबाजी में दिखाई देता है। हाल ही में कोलकाता के खिलाफ हुए मुकाबले में पैट कमिंस ने अकेले दम पर मुंबई को धूल चटाई। कमिंस ने 14 गेंदों पर तूफानी अर्धशतक जड़ा। इस दौरान डेनियलस सैम्स के ओवर में उन्होंने 35 रन भी बटोरे। केकेआर ने 162 रनों का लक्ष्य 16 ओवर में ही हासिल कर लिया। कोलकाता से पहले मुंबई को दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स ने हराया था।

सनराइजर्स हैदराबाद के बल्लेबाजों ने किया निराश

डेविड वॉर्नर और जॉनी बेयरस्टो जैसे धाकड़ सलामी बल्लेबाजों के जाने के बाद सनराइजर्स हैदराबाद की टीम की बल्लेबाजी फीकी नजर आई है। आईपीएल में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने के फैसले को ‘जीत का गुरुमंत्र’ माना जा रहा है, मगर हैदराबाद के लिए यह गुरुमंत्र काम नहीं कर रहा है। अभी तक खेले दोनों मैचों में हैदराबाद ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया और रनों का पीछा करते हुए उन्हें हारा का सामना करना पड़ा। राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ उन्हें 61 रनों से हार मिली, वहीं लखनऊ ने 12 रन पहले उन्हें रोककर धूल चटाई। स्पिन डिपार्टमेंट में राशिद खान की कमी भी हैदराबाद को खूब खल रही है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here