pm narendra modi security lapse akali dal leader sukhbir singh badal demands removal of dgp


पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में पंजाब के फिरोजपुर में हुई चूक के मुद्दे पर भाजपा को अकाली दल का भी समर्थन मिला है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को ही राज्य में सुरक्षा के हालात खराब होने का हवाला देते हुए था कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए। अब शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक के लिए पंजाब के पुलिस महानिदेशक को जिम्मेदार बताते हुए उनकी बर्खास्तगी की मांग की है। बादल ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि वे कितने समय से कहते आ रहे हैं कि पंजाब में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं। पूरी तरह जंगलराज है। कांग्रेस सरकार तथा संगठन में कोई तालमेल नहीं और सरकार में हर कोई सीएम कुर्सी के लिए झगड़ रहा है। 

चन्नी सरकार को राज्य में कुशल प्रशासन देने की चिंता नहीं। बस कोरी घोषणायें कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएम चरणजीत सिंह चन्नी राजकाज चलाने में पूरी तरह अक्षम हैं। उन्होंने कहा कि अक्षम सरकार अयोग्य अधिकारियों को पुलिस प्रमुख नियुक्त कर रही है। अब तक तीन डीजीपी बदले जा चुके है। पुलिस बल का राजनीतिकरण कर दिया गया है और पुलिस बदले की भावना से काम कर रही है। सरकार को लोक हित तथा प्रदेश हित से कोई लेना देना नहीं। उसे केवल बादल परिवार की छवि खराब करने की चिंता है। सुखबीर बादल के अलावा सीनियर बादल कहे जाने वाले प्रकाश सिंह बादल ने भी कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है।

प्रकाश सिंह बादल ने कहा कि नियम के मुताबिक प्रधानमंत्री को राज्य में कहीं भी मूवमेंट करने की छूट होनी चाहिए। ऐसी व्यवस्था देना राज्य सरकार की जिम्मदारी है कि पीएम कहीं भी आसानी से आ जा सकें। उन्होंने कहा कि यह पुराना कानून है और इस बारे में कोई आज प्रोटोकॉल तैयार नहीं किया गया है। गौरतलब है कि पीएम की सुरक्षा में चूक के मामले में कांग्रेस में भी मतभेद दिख रहा है। एक तरफ सीएम चन्नी और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पूरे मामले को लेकर भाजपा और पीएम नरेंद्र मोदी पर ही तंज कसा है तो वहीं सुनील जाखड़ और पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने इस दुखद घटना करार दिया है। मनीष तिवारी ने कहा कि इस घटना की जांच हाई कोर्ट के सिटिंग जज के द्वारा कराई जानी चाहिए।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here