Sanjay Leela Bhansali Denied request of Alia Bhatt To Show Gangubai Kathiawadi To Ranbir Kapoor and Family – Entertainment News India


आलिया भट्ट (Alia Bhatt) का नाम बॉलीवुड की बिजी एक्ट्रेसेस में शुमार है। आलिया के एक प्रोजेक्ट के खत्म होने से पहले ही अगले का ऐलान हो जाता है। इन दिनों आलिया भट्ट फिल्म आरआरआर (RRR), गंगूबाई काठियावाड़ी (Gangubai Kathiawadi), रॉकी और रानी की प्रेम कहानी (Rocky Aur Rani Ki Prem Kahani) और ब्रह्मास्त्र  (Brahmāstra) को लेकर चर्चा में बनी हुई हैं। इस बीच खबर सामने आई है कि आलिया भट्ट अपने ब्वॉयफ्रेंड रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) को गंगूबाई काठियावाड़ी दिखाना चाहती थीं, लेकिन फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली (Sanjay Leela Bhansali) ने मना कर दिया है। संजय के फैसले की वजह जानकर कुछ उनकी तारीफ कर रहे हैं तो वहीं कुछ कह रहे हैं कि कुछ खास लोगों के फिल्म की स्क्रीनिंग की जा सकती थी।

संजय ने किया मना
दरअसल आलिया भट्ट अपनी अपकमिंग फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी को लेकर काफी एक्साइटिड हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म की रिलीज से पहले आलिया इसको अपने पैरेंट्स, बहन और ब्वॉयफ्रेंड रणबीर कपूर को दिखाना चाहती थीं, लेकिन फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली ने इसके लिए मना कर दिया है।

क्यों किया संजय ने इनकार
बता दें कि भंसाली अपनी फिल्मों की प्री स्क्रीनिंग नहीं करते हैं और ये नियम रणबीर कपूर और सोनम कपूर की फिल्म सांवरिया से ही चला आ रहा है। भंसाली के इस फैसले की जहां फैन्स प्रोफेशनली तारीफ कर रहे हैं तो वहीं कुछ फैन्स का कहना है कि चुनिंदा लोगों को फिल्म दिखाई भी जा सकती है। याद दिला दें कि संजय लीला भंसाली की फिल्म सांवरिया से ही रणबीर कपूर और सोनम कपूर ने बॉलीवुड डेब्यू किया था।

अपनी परफॉर्मेंस से खुश हैं आलिया
बॉलीवुड हंगामा की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘गंगूबाई काठियावाड़ी में अपने परफॉर्मेंस से आलिया भट्ट काफी खुश हैं। आलिया ने अभी तक ऐसा किरदार नहीं निभाया है। भंसाली की टीम को ऐसा विश्वास है कि इस परफॉर्मेंस के लिए आलिया को राष्ट्रीय पुरस्कार मिल सकता है। आलिया फिल्म को अपने करीबियों को दिखाना चाहती थीं लेकिन अब लगता है कि सभी को फिल्म देखने के लिए 18 फरवरी का इंतजार करना पड़ेगा।’

‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ पर आधारित फिल्म
लेखक एस हुसैन जैदी की किताब ‘माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई’ के मुताबिक गंगूबाई गुजरात के काठियावाड़ की रहने वाली थीं, जिसके चलते उनको गंगूबाई काठियावाड़ी कहा जाता है। गंगूबाई काठियावाड़ी का असली नाम गंगा हरजीवनदास काठियावाड़ी था। गंगूबाई बचपन में अभिनेत्री बनना चाहती थीं। करीब 16 साल की उम्र में गंगूबाई को अपने पिता के अकाउंटेंट से प्यार हो गया और शादी करके वह मुंबई भाग गईं। बड़े- बड़े सपने देखने वाली गंगूबाई को उनके पति ने धोखा देकर महज 500 रुपये में कोठे पर बेच दिया।

‘गंगूबाई’ ने की मदद
पति के सौदेबाजी की वजह से कम उम्र में ही गंगूबाई वेश्यावृत्ति में पहुंच गईं, जिसके चलते बाद में कई कुख्यात अपराधी गंगूबाई के ग्राहक बने। किताब में बताया गया है कि लाला की गैंग के एक सदस्य ने गंगूबाई के साथ बलात्कार किया था। इसके बाद इंसाफ की मांग के लिए गंगूबाई करीम लाला से मिलीं और राखी बांधकर अपना भाई बना लिया। करीम लाला की बहन होने के चलते जल्दी ही कमाठीपुरा की कमान गंगूबाई के हाथ में आ गई। ऐसा कहा जाता है कि गंगूबाई किसी भी लड़की को उसकी बिना मर्जी के कोठे में नहीं रखती थीं। गंगूबाई ने सेक्स वर्कस और अनाथ बच्चों की मदद के लिए बहुत काम किए थे। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here