Taylor and Nurse blazing knocks power India Capitals into Legends League Cricket final


रॉस टेलर (84) और कैरेबियाई धुरंधर एश्ले नर्स (नाबाद 60) की तूफानी पारियों के दम पर इंडिया कैपिटल्स ने रविवार को जोधपुर के बरकतुल्लाह खान स्टेडियम में लीजेंड्स लीग क्रिकेट (Legends League Cricket) के क्वालीफायर के रोमांचक मुकाबले में भीलवाड़ा किंग्स को 4 विकेट से हराकर फाइनल में अपनी जगह बना ली। भीलवाड़ा किंग्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 226 रन का विशाल स्कोर बनाया, जिसे इंडिया कैपिटल्स ने तीन गेंद बाकी रहते 6 विकेट खोकर हासिल कर लिया। नर्स ने श्रीसंत की गेंद पर छक्का लगाकर इंडिया कैपिटल्स को फाइनल में पहुंचा दिया। 

फाइनल में अब इंडिया कैपिटल्स का सामना गुजरात जायंट्स और भीलवाड़ा किंग्स के बीच होने वाले मुकाबले की विजेता टीम से होगा। दोनों टीमों के बीच यह मुकाबला सोमवार को खेला जाएगा। इसके बाद फाइनल मुकाबला पांच अक्टूबर को होगा।

कोहली की एक और ‘विराट’ उपलब्धि,T20 में 11000 रन बनाने वाले पहले भारतीय

टेलर और नर्स ने टीम को दिलाई रोमांचक जीत

227 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंडिया कैपिटल्स ने 43 के स्कोर तक अपने तीन विकेट गंवा दिए। इनमें कप्तान गौतम गंभीर (1), ड्वैन स्मिथ (24) और हेमिल्टन मसाकाद्जा (10) के विकेट शामिल है। इसके पीछे रॉस टेलर ने (84) दिनेश रामदिन (13) के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 62 रन जोड़कर टीम को मुकाबले में बनाए रखा। हालांकि रामदिन जल्दी ही श्रीसंत का शिकार बन बैठे। लेकिन टेलर ने एक छोर संभाले रखा और अपना अर्धशतक पूरा करने के बाद इंडिया कैपिटल्स के स्काेर को 150 के पार तक पहुंचाया। 

इंडिया कैपिटल्स को फाइनल में पहुंचने के लिए अपने पांच ओवर में 59 रन बनाने थे और टेलर के रूप में उसकी उम्मीदें कायम थीं। लेकिन तभी टेलर सुदीप त्यागी का शिकार बन बैठे। टेलर ने अपनी पारी के दौरान 39 गेंदों का सामना किया, जिसमें उन्होंने 9 चौके और 5 छक्के लगाए। कीवी बल्लेबाज के आउट होने के बाद इंडिया कैपिटल्स की जीत की उम्मीदें धूमिल होती दिख रही थी।

अंतिम दो ओवर में जीत के लिए टीम को 28 रन बनाने थे और उसके पास चार विकेट बाकी थे। ऐसे में नर्स ने अपना कैरेबियाई पावर दिखाते हुए तीन गेंद बाकी रहते ही इंडिया कैपिटल्स को चार विकेट से जीत दिला दी। नर्स ने मात्र 28 गेंदों पर 5 चौके और 4 छक्के की मदद से 60 रनों की मैच जिताऊ पारी खेली। उनके अलावा लियाम प्लेंकट ने 9 गेंदों पर एक चौका और दो छक्कों के सहारे नाबाद 20 रन बनाए। 

रोहित ने रचा इतिहास, 400 T20 मैच खेलने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने

शेन वाॅटसन और विलियम पोर्टरफील्ड ने ठोकी फिफ्टी

इससे पहले, भीलवाड़ा किंग्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। टीम की शुरुआत निराशाजनक रही और पहले ओवर की चौथी ही गेंद पर माेर्ने वेन विक (4) पवेलियन लौट गए। विक को मिशेल जॉनसन ने क्लीन बोल्ड किया। हालांकि इसके बाद विलियम पोर्टरफील्ड (59) और ऑस्ट्रेलियाई धाकड़ ऑलराउंडर शेन वॉटसन (65) ने दूसरे विकेट के लिए 116 रन की शतकीय साझेदारी करके भीलवाड़ा किंग्स को मजबूत स्थित में पहुंचाने की कोशिश की। वाॅटसन ने 39 गेंदों पर 10 चौके और दो छक्के लगाए। 

वाॅटसन के आउट हाेने के बाद पोर्टरफील्डने 6 चौके और तीन छक्के की बदौलत 165.62 की स्ट्राइक रेट से अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। पोर्टरफील्ड ने यहां से यूसुफ पठान (48) के साथ तीसरे विकेट के लिए 33 रन जोड़कर को किंग्स को 150 के पार पहुंचाया। पोर्टरफील्ड ने अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान 37 गेंदों का सामना करते हुए 7 चौके और तीन छक्के लगाए। 

अफ्रीका के खिलाफ गरजा सूर्यकुमार का बल्ला, ठोकी तीसरी सबसे तेज फिफ्टी 

फाइनल फाइव ओवर में पठान ने भी अपना पॉरवर दिखाते हुए कुछ अच्छे शॉट लगाए। पठान ने 200 के स्ट्राइक रेट से 24 गेंदों पर तीन चौके और चार छक्के की बदाैलत 48 और राजेश बिश्नोई ने 327.27 के स्ट्राइक रेट से मात्र 11 गेंदों पर ही 5 चौके और दो छक्के के सहारे 36 रनों की नाबाद पारी खेली। दोनों बल्लेबाजों ने चौथे विकेट के लिए 55 रन जोड़े और भीलवाड़ा किंग्स को 5 विकेट पर 226 रन तक पहुंचा दिया।

इंडिया कैपिटल्स के लिए जॉनसन ने दो और लियाम प्लेंकट, पंकज सिंह तथा रजत भाटिया ने एक-एक विकेट चटकाए। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here