These 11 states are weakening the war against Omicron pace of vaccination is very slow – India Hindi News


देश में 89 फीसदी वयस्क आबादी को कोरोना टीके की पहली और 61 फीसदी आबादी को दोनों खुराक लग चुकी हैं। लेकिन 11 राज्यों में टीकाकरण की रफ्तार राष्ट्रीय औसत से कम है। केद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेस में इन राज्यों का ब्यौरा जारी किया। उन्होंने कहा कि राज्यों के साथ बैठक की गई है तथा उन्हें टीकाकरण की रफ्तार तेज करने को कहा गया है।

बता दें कि अत देश में 140 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। इनमें से 83.29 करोड़ पहली खुराक के रूप में तथा 57 करोड़ टीके दूसरी खुराक के तौर पर दिए गए हैं। इन राज्यों में ओडिसा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, बिहार, पांडिचेरी, उत्तर प्रदेश, मेघालय, झारखंड, मणिपुर, पंजाब तथा नगालैंड शामिल हैं।

राजस्थान सरकार करेगी टीकाकरण अनिवार्य, सख्त कार्रवाई की चेतावनी
राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले एक बार फिर बढ़ने के बीच राज्य सरकार टीकाकरण को अनिवार्य करेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से नियमों व नाइट कर्फ्यू का पालन करने करने की अपील की और कहा कि ऐसा न करने पर सरकार सख्ती बरतेगी। इसके साथ ही गहलोत ने केंद्र सरकार से बूस्टर खुराक और बच्चों के टीकाकरण पर शीघ्र निर्णय करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण शीघ्र ही अनिवार्य किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड की तीसरी लहर से बचाव के लिए जरूरी है कि निर्धारित आयु समूह का शत-प्रतिशत टीकाकरण हो और साथ ही, जिन लोगों को दोनों खुराक लग चुकी हैं, उन्हें ‘बूस्टर’ खुराक दी जाए। 

बूस्टर डोज ले लेना इसका समाधान नहीं
डब्ल्यूएचओ ने यह भी कहा कि बूस्टर डोज ले लेना इसका समाधान नहीं है। कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन करने के साथ-साथ पूर्ण टीकाकरण जरूरी है। साथ ही ओमिक्रोन के उपचार और बचाव का तरीका भी पूर्व की भांति रहेगा।

कोरोना संक्रमण के खिलाफ दो तरीके से कार्य करता है प्रतिरोधक तंत्र
भूषण ने कहा कि डब्ल्यूएचओ के हवाले से यह भी कहा कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ प्रतिरोधक तंत्र दो तरीके से कार्य करता है। एक टीके के कारण शरीर में उत्पन्न न्यूट्रीलाइजिंग एंटीबाडीज संक्रमण को रोकती हैं। समय के साथ-साथ इनकी संख्या घटने लगती है। लेकिन, इसके साथ ही टी सेल के जरिये शरीर का दूसरा प्रतिरोधक तंत्र भी समानांतर रूप से कार्य करता है।

देश में अब तक ओमीक्रोन के 396 मामले आए
देश में कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमीक्रोन के अब तक 396 केस दर्ज किए जा चुके हैं। ये मामले 17 राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में सामने आए। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में एक दिन में कोविड-19 के 6,650 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,47,72,626 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 77,516 रह गई है। 374 और संक्रमितों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,79,133 हो गई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here