Union Health Secretary spoke to all the states and union territories keep a watch on the situation 5-10 percent need hospitalisation at present – India Hindi News


देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सोमवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य सचिवों को पत्र लिखा है। राजेश भूषण ने सभी राज्यों को कोरोना के हालात पर पैनी नजर रखने को कहा है। इसके साथ-साथ उन्होंने राज्यों को लिखे पत्र में कहा है कि वर्तमान में कोरोना मामलों में आए उछाल के बीच 5 से 10 फीसदी सक्रिय मामलों को ही अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ रही है। इसके लिए हमें तैयार रहना पड़ेगा। 

हालांकि, उन्होंने राज्यों को चेतावनी देते हुए लिखा है कि स्थिति तेजी से बदल रही है और अस्पतालों में भर्ती की स्थिति भी तेजी से बदल सकती है। उन्होंने सभी राज्यों को कोरोना के एक्टिव मामलों पर नजर रखने का निर्देश दिया है। बता दें कि भारत में एक दिन में कोरोना वायरस के 1,79,723 नए मामले आने से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 3,57,07,727 पर पहुंच गई है, जिनमें से अभी तक 27 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश से आए ओमिक्रॉन वैरिएंट के 4,033 मामले भी शामिल हैं।

आंकड़ों के अनुसार, ओमिक्रॉन के 4,033 मरीजों में से 1,552 स्वस्थ हो गए हैं या देश छोड़कर चले गए हैं। महाराष्ट्र में ओमिक्रॉन के सबसे अधिक 1,216 मामले आए। इसके बाद राजस्थान में 529, दिल्ली में 513, कर्नाटक में 441, केरल में 333 और गुजरात में 236 मामले आए।  देश में एक दिन में संक्रमण के कुल 1,79,723 नए मामले आए, जो 227 दिनों में सबसे अधिक हैं। पिछले साल 27 मई को 1,86,364 नए मामले आए थे।

देश में सात अगस्त 2019 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2019 को 30 लाख और पांच सितंबर 2019 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2019 को 50 लाख, 28 सितंबर 2019 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2019 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2019 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here