Vehicle fitness certificate via automated testing stations becomes mandatory form 2023


सरकार प्रदूषण को कम करने के लिए सभी जरूरी कदम उठा रही है। ऐसे में सभी वाहनों को अगले साल से ऑटोमेटेड टेस्टिंग स्टेशन से ही फिटनेस प्रमाण लेना प्राप्त करना अनिवार्य हो जाएगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 में संशोधन को अधिसूचित किया है, जो वाहनों को रजिस्टर्ड ऑटोमेटेड टेस्टिंग स्टेशन से फिटनेस सर्टिफिकेट प्राप्त करना अनिवार्य बनाता है।

यह भी पढ़ें- भारत में आज लॉन्च हुई एक और मोटरसाइकिल, मिलेंगे ये धांसू फीचर्स, देखें कीमत

यह भी पढ़ें- दिलों पर राज करने आ रही ये नई गाड़ी, कंपनी ने लॉन्च से पहले किया बड़ा ऐलान

संबंधित खबरें

नोटिफिकेशन के अनुसार भारी माल वाहनों/भारी यात्री मोटर वाहनों के लिए ऐसा सत्यापन 01 अप्रैल 2023 से और मध्यम माल वाहन/मध्यम यात्री मोटर वाहन और हल्के मोटर वाहन (परिवहन) के लिए 01 जून 2024 से अनिवार्य हो जाएगा।

यह भी पढ़ें- Maruti ने हजारों गाड़ियों को वापस मंगवाया, खराबी आने के बाद लिया बड़ा फैसला

यह भी पढ़ें- लॉन्च होगी मारुति की ये नई गाड़ी, नई डिटेल आई सामने

मंत्रालय ने पहले नियमों में बदलाव का प्रस्ताव रखते हुए एक ड्राफ्ट नोटिफिकेशन जारी किया था और फाइनल नोटिफिकेशन जारी करने से पहले इसे लेकर आपत्तियां या सुझाव देने के लिए 30 दिनों का समय दिया था। यह नियम आठ साल पुराने वाहनों के लिए दो साल और आठ साल से ज्यादा पुराने वाहनों के लिए एक साल के लिए फिटनेस प्रमाण पत्र प्रदान करते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here