Volvo plans to expand certified used car business pan India by early 2024


भारत में सेकेंट हैंड गाड़ियां खरीदना लोगों को काफी पसंद आ रहा है। इस समय इस बिजनेस में कम समय में काफी तेजी से इजाफा हुआ है। इस मार्केट की ग्रोथ को देखते हुए अब एक नई कार कंपनी इस बिजनेस में हाथ आजमाना  चाह रही है। बाजार में सेकेंड हैंड कार मार्केट में कंपनियों की संख्या बढ़ने से प्रतिस्पर्धा बढे़गी जिससे ग्राहकों को फायदा होने की उम्मीद है।

स्वीडन की प्रीमियम कार कंपनी वोल्वो भारत में अपनी सर्टिफाइड पुरानी कारों के बिजनेस को साल 2024 की शुरुआत तक पूरे देश में बढ़ाना चाहती है और उसे अपने कुल बिजनेस में इस सेक्शन की हिस्सेदारी एक-तिहाई हो जाने की उम्मीद है। वोल्वो कार इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर ज्योति मल्होत्रा ने कहा कि सेलेक्ट मंच के तहत पुरानी कारों का कारोबार भारत में हाल ही में शुरू हुआ है। 

     

उन्होंने कहा, ”हमने भारत में हाल ही में दो डीलरों के साथ वोल्वो सेलेक्ट नाम से पुरानी कारों का बिजनेस एक पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया है। हम इसे धीरे-धीरे आगे बढ़ाना चाहते हैं और वर्ष 2023 तक या 2024 की शुरुआत में इसे देश भर में अपने नेटवर्क तक पहुंचाना चाहते हैं।”

     

मल्होत्रा ने कहा कि पुरानी कारों के बाजार में अगर कार कंपनियां सक्रियता से शिरकत करती हैं तो ग्राहकों को अच्छी क्वालिटी और कीमत मिल पाएगी। भारत में पुरानी कारों का बाजार वर्ष 2027 तक 19.5 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि दर से बढ़ेगा और इस कारोबार में गाड़ियों की संख्या बढ़कर 80 लाख तक पहुंच जाएगी। इसके अलावा प्रीमियम कैटेगरी की गाड़ियों की मांग इस बाजार में बहुत तेजी से बढ़ रही है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here