We were timid and It showed in our game Ravi Shastri on India T20 World Cup low explains why exiting early hurt more – Latest Cricket News – टी20 वर्ल्ड कप में भारत के शर्मनाक प्रदर्शन पर पूर्व कोच रवि शास्त्री का बड़ा बयान, कहा


साल 2021 भारत का खेलों में भले ही शानदार रहा हो, लेकिन इस साल भारतीय टीम 2 आईसीसी खिताब जीतने से चूक गई। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल हारने के चार महीने बाद ही टी20 विश्व कप से बाहर होकर भारत ने आईसीसी ट्रॉफी जीतने का एक और मौका गंवा दिया। भारतीय टीम अपने पहले मैच में पाकिस्तान के खिलाफ हारी और फिर न्यूजीलैंड से दूसरे मैच में हारने के बाद टूर्नामेंट से बाहर हो गई। इन दोनों आईसीसी टूर्नामेंटों में भारत के हेड कोच रहे रवि शास्त्री ने अब उन हार को लेकर बड़े खुलासे किए हैं। शास्त्री का कहना है कि टीम इंडिया उन टूर्नामेंट में डरपोक की तरह खेल रही थी और यह उनके खेल पर भी साफ दिख रहा था।

शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स के शो में क.हा, ‘पाकिस्तान ने उस मैच में शानदार प्रदर्शन किया था। न्यूजीलैंड के खिलाफ हम डरे हुए थे। बहुत ज्यादा डरे हुए थे। यह मैच के दौरान यह हमारे खेल पर साफ तौर पर दिख रहा था। जब तक आप लड़ते हो तब तक हारने का कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन अगर आप डर गए तो दर्द ज्यादा होता है। ऐसे में इस तरह के टूर्नामेंट में अगर आप बहुत जल्दी हार जाते हैं तो आप मुश्किल में पड़ जाते हैं।’ 

टीम सिलेक्शन पर खुलकर बोले रवि शास्त्री, बताया क्यों कोच और कप्तान की राय जरूरी

पूर्व कोच ने आगे कहा कि इस तरह के फॉर्मेट वाले टूर्नामेंट में गलतियों की गुंजाइश नहीं होती है। उन्होंने कहा कि 2019 वर्ल्ड कप में इस्तेमाल होने वाला प्रारूप आगे भी प्रयोग में लाया जाना चाहिए, जहां हर टीम एक-दूसरे के खिलाफ खेलती है। भारतीय टीम ने 2019 में ग्रुप दौर में शीर्ष स्थान हासिल किया था, लेकिन सेमीफाइनल में उसे न्यूजीलैंड के खिलाफ हार मिली थी। उन्होंने कहा, ‘यह (टी20 वर्ल्ड कप का फॉर्मेट) 2019 की तरह नहीं है, जहां आप हर विपक्षी के खिलाफ खेल सकते हैं। मुझे लगता है कि आगे बढ़ने का यही तरीका है। यह प्रारूप सबसे अच्छा है और फिर इसमें प्लेऑफ भी है। विश्व कप का फैसला करने के लिए यह सही है।’  



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here