Welcome 2022 under the restrictions What Corona will end in the new year Know where to celebrate – India Hindi News – पाबंदियों के साये में 2022 का स्वागत, नए साल में होगा कोरोना का खात्मा! जानें


साल 2022 का आगाज हो चुका है। इसके आगाज के साथ ही लोग एक नई सोच और उम्मीद के साथ इस साल में प्रवेश कर चुके हैं। हालांकि, नए साल में कई चुनौतियां भी हैं, खासकर कोरोना वायरस को लेकर। साल 2022 में एंट्री के साथ ही हो सकता है हमें कुछ पाबंदियों का भी सामना करना पड़े। एक उम्मीद यह भी है कि किसी तरह से महामारी खत्म हो जाए। दिल्ली समेत कई राज्यों में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिली है। ऐसे में नए साल का शुरुआती दौर पाबंदियों में काटनी पड़ सकती है। नए साल पर लोग अपने घरों में भी जश्न मानते हुए नजर आए। दिल्ली-एनसीआर में पटाखे भी फोड़े गए।

दिल्ली में सड़कों पर सन्नाटा
नए साल के अवसर पर राजधानी दिल्ली की सड़कों पर सन्नाटा नजर आया। इस सन्नाटे के पीछे कोरोना पाबंदियां हैं। दिल्ली में 27 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू की शुरुआत हो चुकी है। यह नाइट कर्फ्यू रात को 11 बजे से सुबह 5 बजे तक रहता है। हालांकि, नाइट कर्फ्यू के दौरान कुछ जरूरी चीजों को छूट मिली हुई है। दिल्ली में इंडिया गेट से लेकर कनॉट प्लेस तक सन्नाटा पसरा रहा।

मुंबई में नया साल पड़ा फीका
महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में भी नए साल का जश्न फीका नजर आए। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में शाम 5 बजे से सुबह 5 बजे तक सार्वजनिक स्थानों पर जाने से प्रतिबंध लगा दिया गया है। इस दौरान लोगों को समुद्र तटों, बगीचों, खुले मैदानों और सार्वजनिक स्थानों पर जाने की मनाही है। मुंबई में यह पाबंदी कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को देखते हुए लगाई गई है। वर्तमान आदेश के अनुसार यह पाबंदी 15 जनवरी तक रहेगी। कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि पाबंदियों को और कठोर किया जा सकता है। हालांकि, नए साल के अवसर पर दिल्ली में एतिहासिक इमारतों, संसद भवन को सजाया गया था। हालांकि, मुंबई में बांद्रा-वर्ली सी लिंक पर लाइटें और लेजर शो नजर आए।

शिमला का रिज मैदान भी खाली
कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट के प्रसार की आशंका के बीच शिमला के रिज मैदान में एकत्र हुए पर्यटकों और स्थानीय लोगों को शुक्रवार शाम को वहां से जाने को कहा गया। शिमला के उपायुक्त आदित्य नेगी ने यह जानकारी दी। नेगी ने न्यूज एंजेसी पीटीआई को बताया कि नए साल की पूर्व संध्या पर हजारों लोग रिज मैदान में जमा हुए थे और जिला प्रशासन ने ओमीक्रोन के प्रसार को रोकने के लिए भीड़भाड़ वाले रिज मैदान को खाली कराने का फैसला किया।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here