What will Team India do with Bhuvneshwar Kumar and Harshal Patel Rohit Sharma gave a blunt answer after India vs Australia T20 Series


टीम इंडिया ने भले ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज पर 2-1 से कब्जा जमा लिया हो, लेकिन बॉलिंग की कमियां भी इस सीरीज में जमकर उजागर हुईं। जसप्रीत बुमराह और हर्षल पटेल की गैरमौजूदगी में एशिया कप में डेथ ओवर में भारत ने काफी रन खर्चे थे, लेकिन तब यही चर्चा हो रही थी कि बुमराह और हर्षल की वापसी से चीजें बेहतर होंगी। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इन दोनों गेंदबाजों ने रन लुटाए। हालांकि कप्तान रोहित शर्मा ने सीरीज खत्म होने के बाद अपने गेंदबाजों का बचाव किया है।

एशिया कप 2022 में खराब प्रदर्शन के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज में भी भारतीय गेंदबाज डेथ ओवरों में अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर सके, लेकिन कप्तान रोहित ने रविवार को मैच के बाद हर्षल पटेल और भुवनेश्वर कुमार से संबंधित सवालों के जवाब में दोनों गेंदबाजों का बचाव किया।रोहित ने रविवार को मैच के बाद हर्षल के बारे में कहा, ‘चोट के बाद वापसी करना हमेशा मुश्किल होता है। वह दो महीनों तक क्रिकेट से दूर रहे। जब भी गेंदबाज चोट से वापस आते हैं तो यह आसान नहीं होता। हम इन तीन मैचों में उनके प्रदर्शन के आधार पर अपनी राय नहीं बना रहे क्योंकि हमें उनकी स्किल्स के बारे में पता है।’

इसे भी पढ़ेंः ऑस्ट्रेलियाई कोच के अंदर दिखा सूर्या का खौफ, सीरीज के बाद दिया ये बयान

‘चोट के बाद वापसी में समय लगता है’

उन्होंने कहा, ‘उन्होंने पहले हमारे लिए और अपनी फ्रेंचाइजी के लिए कई मुश्किल ओवर फेंके हैं। हमें उनकी स्किल्स पर भरोसा है। उनपर भरोसा करना जरूरी है और मुझे विश्वास है कि वह भी इन गलतियों को सुधारने की कोशिश कर रहे हैं। वह अपनी गेंदबाजी पर कड़ी मेहनत कर रहे हैं।’ हर्षल ने इस सीरीज के पहले मैच में बिना विकेट लिए चार ओवर में 49 रन दिए, जबकि वर्षाबाधित दूसरे टी20 में दो ओवर में 32 रन लुटाए। तीसरे मैच में उन्होंने केवल दो ही ओवर फेंके और 18 रन देकर एक विकेट लिया।

रोहित ने कहा, ‘हम जब भी नेट्स में प्रैक्टिस करते हैं, वह हमेशा अपने कौशल पर काम कर रहे होते हैं। आप चाहते हैं कि खिलाड़ी मैदान में जाएं और सुधार करते रहें। हम इसके बारे में हमेशा बात करते हैं। मुझे विश्वास है कि वह अपने सर्वश्रेष्ठ फॉर्म से ज्यादा दूर नहीं हैं।’ चोट से लौटे हर्षल के अलावा डेथ ओवरों में भुवनेश्वर कुमार की गेंदबाजी भी भारत के लिए चिंता का विषय रही है। 

‘भुवी जल्द फॉर्म में लौटेंगे’

भुवनेश्वर ने पिछले तीन हफ्तों में तीन बार 19वां ओवर फेंका है जिसमें उन्होंने क्रम से 19, 14 और 16 रन दिए हैं। हैदराबाद में रविवार को खेले गये टी20 में भुवनेश्वर को 18वां ओवर फेंकने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी, जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने 21 रन जोड़े। रोहित का मानना है कि भुवनेश्वर भारत के लिए लंबे समय से अच्छा प्रदर्शन करते आए हैं इसलिए उन्हें समय देना जरूरी है।

इसे भी पढ़ेंः सीरीज डिसाइडर मैच से पहले बीमार थे सूर्या, मैच के बाद किया खुलासा

रोहित ने कहा, ‘यह जरूरी है कि हम उन्हें समय दें। हम जानते हैं कि उनके अच्छे दिन उनके बुरे दिनों से ज्यादा रहे हैं। यह हम पिछले कुछ सालों में देख चुके हैं। उनका हालिया प्रदर्शन वैसा नहीं रहा जैसा वह चाहते थे, लेकिन यह किसी भी गेंदबाज के साथ हो सकता है।’ रोहित ने कहा कि टीम मैनेजमेंट भुवनेश्वर से डेथ ओवरों में गेंदबाजी के बारे में बात कर रहा था, और उन्हें पूरी उम्मीद है कि भुवी अपनी गेंदबाजी में सुधार करेंगे।

‘भुवी से बात की जा रही है’

रोहित ने कहा, ‘हमारी तरफ से हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि हम और क्या कर सकते हैं। जब आप डेथ में गेंदबाजी कर रहे होते हैं तो आप बल्लेबाज को अनुमान नहीं लगने दे सकते हैं, आपके पास मैदान के दोनों किनारों पर गेंदबाजी करने का विकल्प होना चाहिए। यह वे चीजें हैं जिनके बारे में हम उनसे बात कर रहे हैं। उनके जैसे अनुभव वाले व्यक्ति के लिए इन सब बातों को समझना आसान होगा।’ उन्होंने कहा,  वह ऐसा कर चुके हैं, यह उनके दिमाग में है। ऐसा नहीं है कि वह अपनी पुरानी गेंदबाजी को पूरी तरह से भूल गए हैं, बस उन्हें आत्मवश्विास के साथ सब बाहर लाने की जरूरत है।’



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here