Who is Kuldeep Sen Rajasthan bowler who defended 15 against Stoinis in last over vs Lucknow in IPL 2022


Kuldeep sen news: राजस्थान रॉयल्स ने रविवार रात मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2022 के 20वें मुकाबले में लखनऊ सुपर जायंट्स को तीन रन से हरा दिया। राजस्थान की इस रोमांचक जीत में एक ऐसे खिलाड़ी का योगदान रहा, जिसका नाम आपने शायद ही पहले कभी सुना होगा। जी, हां हम बात कर रहे हैं मैच में आखिरी ओवर फेंकने वाले तेज गेंदबाज कुलदीप सेन (Kuldeep Sen) का। लखनऊ को जीत के लिए अंतिम ओवर में 15 रनों की दरकार थी और राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने गेंद कुलदीप सेन को थमाकर सभी को चौंका दिया। कुलदीप का आईपीएल में यह डेब्यू मैच था और ऐसे में उनका नर्वस होना तय लग रहा था। 

RR vs LSG: कुलदीन सेन की प्रतिभा से प्रभावित हुए संजू सैमसन, कहा- वह जल्द भारत के लिए खेल सकते हैं  

सैमसन द्वारा आखिरी ओवर कुलदीप को देना इसलिए भी हैरानी भी था क्योंकि क्रीज पर मार्कस स्टोयनिस जैसा खतरनाक बल्लेबाज मौजूद था, जोकि 12 गेंदों पर पहले ही 28 रन बना चुके थे। और 19वें ओवर में 19 रन बटोर चुके थे। कुलदीप इससे पहले तीन ओवर कर चुके थे और दीपक हुड्डा को बोल्ड करके पवेलियन का रास्ता दिखा चुके थे। कप्तान और टीम मैनेजमेंट ने हालांकि कुलदीप पर जो भरोसा जताया था, वह उस पर खरे उतरे। कुलदीप सेन ने आखिरी ओवर में वाइड यॉर्कर सहित तीन गेंदें डॉट फेंककर लखनऊ को जीत से दूर कर दिया। उन्होंने मुकाबले में चार ओवर में 34 रन देकर एक विकेट अपने नाम किया।

आईपीएल के इतिहास में रिटायर आउट होने वाले पहले खिलाड़ी बने अश्विन, टीम हित में लिया फैसला

कौन हैं कुलदीप सेन?

संबंधित खबरें

राजस्थान ने इस बार आईपीएल नीलामी में कुलदीप को मात्र 20 लाख रुपये में खरीदा था। उस समय किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि कुलदीप इस सीजन में टीम के लिए जीत के हीरो बनेंगे। मध्य प्रदेश के रीवा जिले के रहने वाले कुलदीप को 18 T20 मैच खेलने का अनुभव है। इसके अलावा उन्होंने साथ ही 16 फर्स्ट क्लास मैच और ​तीन लिस्ट ए मैच भी खेला है। वह सैयद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी में भी अपनी प्रतिभा का लौहा मनवा चुके हैं। राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन ने भी मैच के बाद कहा कि उन्होंने कुलदीप सेन को सैयद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी में खेलते हुए देखा है और वह उनकी प्रतिभा से अच्छी तरह से वाकिफ हैं। 

चहल ने आईपीएल में पूरे किए 150 विकेट, बने ऐसा करने वाले चौथे भारतीय

उनके पिता रामपाल सेन शहर में एक सैलून की दुकान चलाते हैं। कुलदीप सेन ने आठ की उम्र से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के अपने डेब्यू सीजन में ही उन्होंने पंजाब के खिलाफ एक पारी में 5 विकेट चटकाए थे और 25 विकेटों के साथ सीजन को खत्म किया था। कुलदीप सेन के नाम 16 फर्स्ट क्लास मैचों में 44 विकेट जबकि 18 टी20 मैचों में 12 विकेट है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here